Posted On by &filed under film news, मनोरंजन.



नई दिल्ली। हाल में 22 सितंबर को बड़े पर्दे पर रिलीज फिल्म ‘’हसीना: क्वीन ऑफ मुंबई’’ काफी चर्चाओं में है। लेकिन इन चर्चाओं के बीच ही फिल्म के कलाकारों के अभिनय के साथ इस फिल्म के निर्देशक अपूर्व लाखिया के निर्देशन की खासी तारीफ की जा रही है। बता दें कि, फिल्म हसीना पारकर के लिए काफी रिसर्च की गई है। इसमें दाऊद की बहन हसीना के जीवन को दर्शाया गया है। इसमें श्रद्धा कपूर के अलावा उनके भाई सिद्धांत कपूर और एक्टर अंकुर भाटिया हैं। इस फिल्म में अंडरवर्ल्ड की दुनिया और उनके पारिवारिक ताल्लुकात को जिस तरह से पेश किया गया है, उसमें एक नयापन है। इस फिल्म के रिलीज होने से पहले ही अपूर्व ने यह साफ किया था कि यह फिल्म किसी भी कैरेक्टर को ग्लोरीफाई नहीं करेगी। उन्होंने कहा था कि उनकी यह फिल्म ‘मैरी कॉम’ या फिर ‘भाग मिल्खा भाग’ की तरह नहीं है जिसमें किसी व्यक्ति विशेष का ग्लोरिफिकेशन किया गया हो। हसीना पारकर बायोपिक है जिसमें हसीना पारकर के जीवन को दर्शाया गया है, जिनपर 88 केस लगे थे लेकिन वो कोर्ट में महज एक बार गईं थीं। इस फिल्म से पहले भी अपूर्व के निर्देशन की खास बात रही कि वह पहले पटकथा लेखन खुद करते हैं और फिल्म निर्देशन। वर्ष 2003 में ‘मुंबई से आया मेरा दोस्त’ और 2005 में ‘एक अजनबी’ की शुरुआती सफलता के बाद वर्ष 2007 में उन्होंने लगातार दो हिट फिल्में दीं जिनमें ‘शूटआउट एट लोखंडवाला’ और ‘दस कहानियां’ शामिल हैं। इन सभी फिल्मों में पटकथा लेखन तथा निर्देशन से अपूर्व से बॉलीवुड को बता दिया कि वह अच्छे-अच्छों को चुनौती देने के लिए तैयार हैं। इसके बाद वर्ष 2008 में ‘मिशन इस्तांबुल’, वर्ष 2013 में ‘जंजीर’ का रीमेक और वर्तमान में फिल्म ‘हसीना: द क्वीन ऑफ मुंबई’ बनाकर फिल्मी दुनिया में एक नई पहचान बना ली है। अपूर्व बताते हैं कि अब बस थोड़ा इंतजार कीजिए, दर्शकों को बड़े पर्दे पर एक के बाद एक धमाल देखने को मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *