ममता ने किसानों को जमीन लौटाई, कंपनियों को संदेश भेजा

ममता ने किसानों को जमीन लौटाई, कंपनियों को संदेश भेजा
ममता ने किसानों को जमीन लौटाई, कंपनियों को संदेश भेजा

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज सिंगूर में किसानों को भूमि के ‘पर्चा’ नाम के कागजतात और चेक सौंपे तथा कंपनियों को यह कहते हुए संदेश भेजा कि राज्य में वाहन उद्योग स्थापित करने की इच्छा रखने वाली किसी भी कंपनी का ‘‘स्वागत’’ है ।

इस संबंध में उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद पर्चा सौंपते हुए ममता ने कहा, ‘‘हम उद्योग चाहते हैं, लेकिन जबरन :जमीन: अधिग्रहण के जरिए नहीं ।’’ ममता ने 2006 में टाटा के नैनो कारखाने के लिए भूमि अािग्रहण के खिलाफ बड़ा आंदोलन चलाया था।

पर्चा एक ऐसा कागजात है जो राजस्व रिकॉर्ड में भूमि के किसी हिस्से पर किसी किसान का स्वामित्व स्थापित करता है ।

उच्चतम न्यायालय ने 31 अगस्त को व्यवस्था दी थी कि सिंगूर में भूमि अािग्रहण की प्रक्रिया त्रुटिपूर्ण थी और यह लोक उद्देश्य के लिए नहीं थी ।

शीर्ष अदालत ने राज्य सरकार को निर्देश दिया था कि वह 12 सप्ताह के भीतर किसानों की जमीन लौटा दे ।

ममता ने कहा, ‘‘मैं एक महीने का समय दे रही हूं । आप सोचें । हम आपको गोआल्तोर :मिदनापुर: में 1,000 एकड़ जमीन देंगे । यदि कोई भी, चाहे यह टाटा हो या बीएमडब्ल्यू हो, वाहन उद्योग स्थापित करना चाहता है तो उनका स्वागत है । हमें बहुत खुशी होगी ।’’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हम जमीन रखेंगे । :यदि आप उद्योग स्थापित करना चाहते हैं:..कृपया हमारे वित्तमंत्री अमित मित्रा या मुख्य सचिव से संपर्क करें । हमारे पास खड़गपुर, पानागढ़, तथा अन्य स्थानों पर जमीन है । हमारा संदेश बहुत स्पष्ट है । हमें उद्योग स्थापित करने चाहिए और कृषि भूमि बचानी चाहिए ।’’

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

%d bloggers like this: