अल्का श्रीवास्तव

मैं अलका श्रीवास्तव, कानपुर उ.प्र.की निवासी हूं। मैं एक ग्रहणी हूं। अब तक मैंने दो कहानी संग्रह प्रकाशित हो चुके हैं। पहला "मनाही" जिसमें सामाजिक मुद्दों और आसपास की घटनाओं से जुड़ी कहानियां हैं। दूसरा "बुद्धिमान चीकू नीकू और अन्य कहानियां" है, जिसमें बच्चों के लिए चंपकवन के जानवरों की प्रेरक और नैतिक कहानियां हैं। संपर्क न.: 9453534254