रोबोट छीनते मानव रोजगार

Posted On by & filed under राजनीति, समाज

 देवेंद्रराज सुथार रोबोट के बढ़ते निर्माण और प्रयोग के कारण मानव के रोजगार पर संकट गहराने लग गया है। वस्तुतः आज रोबोट्स न सिर्फ ऑफिस के अंदर बल्कि ऑफिस के बाहर भी लोगों की नौकरियां छीनने में लगे हैं। यह चिंता जताई जा रही है कि साल 2020 तक कई रोजगार ऐसे होंगे जो ऑटोमेशन… Read more »

 राजस्थान के सरकारी स्कूलों में सुनाए जाएंगे संतों के प्रवचन

Posted On by & filed under राजनीति

देवेंद्रराज सुथार पिछले दिनों राजस्थान सरकार ने शिक्षा में नवाचार को लेकर एक सराहनीय पहल की है। जिसके तहत सरकार राज्य के सरकारी व गैर सरकारी प्रारंभिक व माध्यमिक स्कूल के छात्रों को प्रत्येक शनिवार को शैक्षिक गतिविधियों के साथ ही सह शैक्षिक गतिविधियों के रूप में सामाजिक सरोकार से प्रदत्त कार्यक्रमों से जोड़ने का… Read more »

आंदोलन के पर्याय बनते शिक्षक और सरकार मूक दर्शक

Posted On by & filed under राजनीति

Mridul C Srivastava इलाहाबाद हाई-कोर्ट के एक फैसले ने उत्तर प्रदेश के प्राइमरी शिक्षकों में हड़कम्प मचा रखा है वाजिब भी है हाई कोर्ट ने #अपेयरिंग,#परस्यू पास अनुमानतः 50 से 60 हजार शिक्षकों को बाहर निकाल दो जैसा निर्णय दिया है । सरकार इस निर्णय को लागू कर पायेगी ऐसा किसी भी हाल में सम्भव… Read more »

यूपी में महागठबंधन की राह

Posted On by & filed under राजनीति

संजय सक्सेना, उत्तर प्रदेश में 2019 के आम चुनाव में बीजेपी यानी मोदी के खिलाफ विपक्ष के महागठबंधन की कोशिशों में अभी कई पेंच नजर आ रहे हैं. सपा ने अपने पत्ते जरूर खोल दिये हैं, लेकिन बीएसपी सुप्रीमों मायावती की तरफ से अभी तक कोई सकारात्मक बयान नहीं आया है. शायद इसी लिये राजनीति… Read more »

सुलगी हुई घाटी की नई आफत

Posted On by & filed under राजनीति

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ दिन ढलने को था, आसमान से श्वेत कबुतर अपने आशियानों की तरफ लौटने ही वाले थे, कहवा ठण्डा होने जा रहा था, पत्थरबाजों के हौसले परवान पर थे, अलगाववाद और चरमपंथ अपनी उधेड़बुन में बूमरो गुनगुना रहा था, चश्म-ए-शाही का मीठा पानी भी कुछ कम होकर एक शान्त स्वर झलका रहा… Read more »

  कश्मीर की पंचामृत सरकार का विसर्जन

Posted On by & filed under राजनीति

प्रवीण गुगनानी सीजफायर केवल सेना व आतंवादियों में नहीं था, भाजपा व पीडीपी में भी था. संघर्ष विराम पिछले रमजान माह मात्र में नहीं था बल्कि साढ़े तीन वर्षों से चल रहा था. सीजफायर छः वर्षों के लिए किया गया था जिसे साढ़े तीन वर्षों में अब योजना बद्ध नीति से तोड़ा गया है. विराम… Read more »

कश्मीरः लात और बात, दोनों चलें

Posted On by & filed under राजनीति

डॉ. वेदप्रताप वैदिक कश्मीर में शस्त्र-विराम को विराम देकर भारत सरकार ने बिल्कुल ठीक कदम उठाया है। एक महिने तक चले इस एकतरफा शस्त्र-विराम का नतीजा क्या निकला ? सरकार और फौज ने तो हथियार नहीं चलाए लेकिन आतंकवादियों ने बड़ी बेशर्मी से अपनी खूरेंजी जारी रखी। 41 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हुए।… Read more »

चुनावी खुशबू ‘आप’ को समझा गई चुप्पी हानिकारक है ?

Posted On by & filed under राजनीति

पारसमणि अग्रवाल चुनावी दस्तक होते ही राजनैतिक दलों में हलचल मच जाती है। गोटें बिछने का दौर शुरू हो जाता है और सियाशी रोटियां सिकने लगती है। राजनैतिक पण्डितों की दुकानें खुल जाती हैं। छुटभैया नेता भी बरसाती मेंढ़क की तरह बाहर निकल आते है। हर सियाशी दलों के नेताओं का दिलों-दिमाग सिर्फ और सिर्फ… Read more »

कश्मीर पर आई तथाकथित यूएन की रिपोर्ट एक साजिश है

Posted On by & filed under राजनीति

डॉ मनीष कुमार कश्मीर पर UN की ‘रिपोर्ट’ आई तो वामपंथी गैंग के चेहरे पर मुस्कान आ गई क्योंकि इनकी हिंदुस्तान को बदनाम करने की साजिश सफल हो गई. लेकिन इनकी खुशियां ज्यादा दिन तक टिकने वाली नहीं है. इस रिपोर्ट की सच्चाई समझने से पहले मोदी सरकार और बीजेपी को ये बताना जरूरी है… Read more »

कश्मीरः सीज़फ़ायर बना ‘आतंकियों की ईद’?

Posted On by & filed under राजनीति

तनवीर जाफ़री                 पिछले महीने जम्मू-कश्मीर राज्य की पीडीपी-भाजपा संयुक्त सरकार की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती द्वारा माह-ए-रमज़ान शुरु होने से पहले राज्य में भारतीय सेना द्वारा एकतरफ़ा सीज़फ़ायर करने के अनुरोध किया गया था। भारत सरकार ने इस प्रस्ताव को स्वीकार तो ज़रूर कर लिया परंतु देश व कश्मीरवासियों को इस सीज़फ़ायर की भारी कीमत… Read more »