धर्म-अध्यात्म

ऋषि दयानन्द का गृहाश्रम पर पठनीय महत्वपूर्ण उपदेश

–मनमोहन कुमार आर्य                 ऋषि दयानन्द का सत्यार्थप्रकाश ग्रन्थ विश्व प्रसिद्ध ग्रन्थ है। इसके चैथे…

मृतक श्राद्ध का विचार वैदिक सिद्धान्त पुनर्जन्म के विरुद्ध है

–मनमोहन कुमार आर्य                महाभारत युद्ध के बाद वेदों का अध्ययन–अध्यापन अवरुद्ध होने के कारण…

मर्यादा पुरुषोत्तम राम के जीवन, आदर्शों एवं पावन स्मृति को सादर नमन

–मनमोहन कुमार आर्य                 मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम वैदिक धर्म एवं संस्कृति के आदर्श हैं।…

वर्षों से प्रकाशस्तंभ की भाँति विद्यमान हैं लोकनायक श्रीराम

– लोकेन्द्र सिंह मर्यादापुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम भारत की आत्मा हैं। राम भारतीय संस्कृति के भव्य-दिव्य मंदिर…

ईश्वर के सत्यस्वरूप और ज्ञान का प्रकाश सर्वप्रथम वेदों द्वारा किया गया”

-मनमोहन कुमार आर्य                संसार की अधिकांश जनसंख्या ईश्वर के अस्तित्व को स्वीकार करती है।…

वेद मानवता व नैतिक मूल्यों के प्रसारक विश्व के प्राचीनतम ग्रन्थ हैं

–मनमोहन कुमार आर्य                 सृष्टि का आरम्भ सर्वव्यापक एवं सर्वशक्तिमान ईश्वर से सभी प्राणियों की…

ईश्वर का अस्तित्व सत्य सिद्ध है, वह सबका रक्षक एवं पालनकर्ता है

-मनमोहन कुमार आर्य                ऋषि दयानन्द के सत्यार्थप्रकाश के सातवें समुल्लास में वर्णित वचनों के…