साक्षात्‍कार

मोदी सरकार की सफलता और विफलता पर आरएसएस विचारक गुरूमूर्ति जी के बेबाक विचार |

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विचारक स्वामीनाथन गुरुमूर्ति द्वारा इंडिया टुडे के लिए शोभा वारियर को

राष्ट्र के प्रति प्रेम और समर्पण ही सच्चा राष्ट्रवाद है : विनय बिदरे

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन करते हुए प्रांत मंत्री, राष्ट्रीय मंत्री

समाजवादी पार्टी का अस्तित्व खुद संकट में है, वो भला कांग्रेस को क्या बचा पाएगी ???

उत्तर प्रदेश को अगर देश की राजनितिक धड़कन कहा जाये तो यह अतिश्योक्ति नहीं होगी.ऐसे

बुन्देलखण्ड के मालवीय थे परमपूज्य स्वामी ब्रह्मानंद जी

(122वीं जयंती 04 दिसंबर 2016 पर विशेष) स्वामी ब्रह्मानंद का व्यक्तित्व महान था। उन्होंने समाज

योगाचार्य स्वामी दिव्यानन्द सरस्वती जी से साक्षात्कार

एक बार मैं साधना में था, मुझे पता ही नहीं चला कि सत्संग यज्ञ भी खतम हो गया। दो घंटे यज्ञ चलता है। रात्रि हो गई। साधको ने अनुभव किया और कहा कि स्वामी जी आपको समाधि लग गई, आपको पता नहीं चला। हम तो यज्ञ भी करके आ गये।’ स्वामी जी ने हमें कहा कि हमें भी इसी प्रकार से साधना करनी चाहिये। सभी लोगों को साधना जरूर करनी चाहिये। अपने विषय में वह बोले, ‘मुझे जो कार्य दिया गया, मैंने युक्ति व बल से किया। किसी काम को मैंने भार रूप अनुभव नहीं किया। सभी कामों को मैंने सदैव श्रद्धापूर्वक किया।’