कविता

हिन्दुत्व महान सनातन धर्म का वरदान है

---विनय कुमार विनायकहिन्दुत्व महान सनातन धर्म का वरदान है,हिन्दुत्व सत्य अहिंसा दया धर्म का अभियान है,हिन्दुत्व वेद पुराण आगम निगम...

हिन्दुत्व को समझो जिसमें सत्य अहिंसा दया है

---विनय कुमार विनायकवो हिन्दुत्व को क्या जाने व समझेंगे,जो पूर्वाग्रह में जीते और दुराग्रही होते,जो आक्रांताओं की हमेशा तारीफ करते,यह...

जातिवादियों में न्यायिक चरित्र नहीं होता

---विनय कुमार विनायकजातिवादियों में न्यायिक चरित्र नहीं होता,जातिवादी जन शुभसंस्कार से रिक्त होता! जातिवादी भाई भतीजावाद में लिप्त होता,जातिवादी जन...

ईश निंदा के बहाने दूसरे धर्म के ईश्वर की बेअदबी करना

---विनय कुमार विनायकतुम अपने ईश की निंदाऔर धार्मिक किताब की बेअदबी के बहानेकरते हो दूसरे धर्म के देवी देवताओं कीमूर्तियों...

पैरों की पूजा होती मगर मुख हाथ पेट पूज्य नहीं होते

---विनय कुमार विनायकपैरों की पूजा होती मगरमुख हाथ पेट पूज्य नहीं होतेपैर चाहे जिनके भी होंपैर पूजने की परंपरा है...

20 queries in 0.399