पाकिस्तान के गले में एफएटीएफ की फांस-अरविंद जयतिलक

Posted On by & filed under विश्ववार्ता

अरविंद जयतिलक आतंकियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह का तमगा हासिल कर चुके पाकिस्तान के लिए यह शुभ संकेत नहीं है कि वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) ने उसे ग्रे सूची में शामिल कर उसकी मुश्किलें बढ़ा दी है। हालांकि पाकिस्तान ने इस स्थिति से बचने के लिए एफएटीएफ को 26 सूत्रीय कार्रवाई योजना का प्रस्ताव… Read more »

तुर्की में लोकतंत्र के सूरज का अस्त होना

Posted On by & filed under विश्ववार्ता

ललित गर्ग- तुर्की एक लोकतांत्रिक राष्ट्र हैं, जहां हाल में सम्पन्न हुए चुनावों ने लोकतंत्र को कमजोर कर दिया है, इन चुनावों ने एक झकझोरने वाला सवाल खड़ा किया है कि क्या व्यक्ति-विशेष को सर्वशक्तिमान बनाकर लोकतंत्र की नींव को जर्जर नहीं किया गया है? सच्चे लोकतंत्र में व्यक्ति-विशेष नहीं बल्कि जनता को शक्तिशाली बनाने… Read more »

अमेरिका ट्रंप की दुकान है, क्या ?

Posted On by & filed under विश्ववार्ता

डॉ. वेदप्रताप वैदिक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका की भलाई के लिए कोई कठोर कदम उठाते हैं तो उसमें कुछ बुराई नहीं है लेकिन आजकल उन्होंने विदेशों से आयात होने वाली चीजों पर भारी-भरकम टैक्स लगाकर बर्र के छत्ते में हाथ डाल दिया है। सबसे पहले उन्होंने चीन को सबक सिखाने की ठानी। चीनी चीजों… Read more »

अमेरिका में भारतवंशियों को ग्रीन कार्ड मिलना मुश्किल

Posted On by & filed under राजनीति, विश्ववार्ता

ग्रीन कार्ड की लंबी लाइन प्रमोद भार्गव अमेरिकी नागरिक बन जाने की प्रबल इच्छा रखने वाले भारतियों के लिए बुरी खबर सामने आई है। यहां ग्रीन कार्ड प्राप्त करने वालों की सूची इतनी लंबी हो गई है कि कई लोगों को 151 साल तक इंतजार करना पड़ सकता हैं। इतनी लंबी प्रतिक्षा वहीं कर सकते… Read more »

योग बनाम सभ्यताओं का संघर्ष

Posted On by & filed under विश्ववार्ता, समाज

(21 जून योग दिवस पर विशेष) वीरेन्द्र सिंह परिहार तमाम बाधाओं को पारकर पूर्ण बहुमत से प्रधानमंत्री बने नरेन्द्र मोदी ने 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की सलाह दी थी। इसका समर्थन 177 से अधिक देशों ने किया, जिसमें संयुक्त राज्य अमेरिका, चीन और कनाडा जैसे देश थे।… Read more »

आपातकाल पश्चात, अमेरिका में हिन्दू संगठन का दृढीकरण (२)

Posted On by & filed under विश्ववार्ता

डॉ. मधुसूदन हिन्दू संगठनों को, अमरिका में, आपात्काल से एक अलक्षित लाभ हुआ. प्रारंभ में तो संघ स्वयंसेवक सम्मिलित हुए, पर पश्चात भारत हितैषी व्यक्तित्व भी छनकर साथ आते गए. इनमें विशेषज्ञ थे, अपने क्षेत्र के दिग्गज थे, और भिन्न विचार रखनेवाले देशप्रेमी भी थे. ऐसे प्रबुद्ध व्यक्तित्वों को संगठन में आत्मीयता से जोडना आवश्यक… Read more »

अमेरिका में भारतवंषियों को ग्रीन कार्ड मिलना मुश्किल

Posted On by & filed under विश्ववार्ता

प्रमोद भार्गव अमेरिकी नागरिक बन जाने की प्रबल इच्छा रखने वाले भारतियों के लिए बुरी खबर सामने आई है। यहां ग्रीन कार्ड प्राप्त करने वालों की सूची इतनी लंबी हो गई है कि कई लोगों को 151 साल तक इंतजार करना पड़ सकता हैं। इतनी लंबी प्रतिक्षा वहीं कर सकते हैं, जिन्हें भगवान ने पौने… Read more »

चीन-भारत-अमेरिका: बनते बिगड़ते समीकरण

Posted On by & filed under विश्ववार्ता

दुलीचन्द रमन वुहान में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच अनौपचारिक वार्ता के निष्कर्ष सार्वजनिक तौर पर सांझा नही किये गये। लेकिन पहले उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग द्वारा चीन की गुप-चुप यात्रा और उसके बाद प्रधानमंत्री मोदी से मंत्रणा से विश्व को बदलते वैश्विक समीकरणों की पदचाप सुनाई… Read more »

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग मुलाकात के क्या हैं मायने

Posted On by & filed under विश्ववार्ता

राकेश कुमार आर्या 6 अगस्त 1945 की वह घटना है जब जापानी समय के अनुसार प्रात: के 8:15 हुए थे, तभी हिरोशिमा शहर के केंद्र से 580 मीटर की दूरी पर परमाणु बम का विस्फोट हुआ। शहर का 80 प्रतिशत भाग इस विस्फोट की चपेट में तुरंत आ गया था और लोगों का जीवन वैसे… Read more »

अमेरिका में प्रवासी भारतीय संकट में

Posted On by & filed under राजनीति, विश्ववार्ता

प्रमोद भार्गव अमेरिकी नागरिक बन जाने की प्रबल इच्छा रखने वाले भारतियों के लिए बुरी खबर सामने आई है। यहां ग्रीन कार्ड प्राप्त करने वालों की सूची इतनी लंबी हो गई है कि कई लोगों को 92 साल तक इंतजार करना पड़ सकता है। इतनी लंबी प्रतिक्षा वहीं कर सकते हैं, जिन्हें भगवान ने सवा… Read more »