घर के मंदिर में भूलकर भी नहीं करें ये गलतियां वरना हो सकता हैं तनाव या टेंशन…

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

( अनजाने में घर के मंदिर में की गयी ये गलतियाँ बन सकती है तनाव का कारण) भगवान् की पूजा हर घर में की जाती है, लोग अपने घर में भगवान् को एक खास जगह देते है और उसी जगह पर रोज़ाना उनकी पूजा पाठ की जाती है,एक तरह से माना जाये तो ये स्थान… Read more »

ॐ चिन्ह/शब्द का अर्थ/प्रभाव और महत्व  —

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, विविधा

प्रिय मित्रों/पाठकों, वर्तमान/आधुनिक विज्ञान जब प्रत्येक वस्तु, विचार और तत्व का मूल्यांकन करता है तो इस प्रक्रिया में धर्म के अनेक विश्वास और सिद्धांत धराशायी हो जाते हैं। विज्ञान भी सनातन सत्य को पकड़ने में अभी तक कामयाब नहीं हुआ है किंतु वेदांत में उल्लेखित जिस सनातन सत्य की महिमा का वर्णन किया गया है… Read more »

ईद-उल-अजहा: मानवता की सेवा : कुर्बानी का वास्तविक सार

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, समाज

वर्षा शर्मा ईद-उल-अज़हा इस्लाम धर्म का खास त्यौहार है जो बकरीद अथवा ईद-उल-कबीर के नाम से भी जाना जाता है। ईद उल फ़ित्र के 70 दिनों बाद इस्लामी कैलेंडर का आखिरी महीना 10 ‘जुल हज्जा’ को ईद-उल-अज़हा का त्यौहार मनाया जाता है। यह त्यौहार बलिदान अथवा कुरबानी का प्रतीक है। इस्लाम धर्म में  बकरे की कुर्बानी… Read more »

परसाई के बहाने 

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, लेख, साहित्‍य

आरिफा एविस हिंदी साहित्य के मशहूर व्यंग्यकार और लेखक हरिशंकर परसाई से आज कौन परिचित नहीं है और जो परिचित नहीं है उन्हें परिचित होने की जरूरत है. मध्य प्रदेश के होशंगाबाद के जमानी गाँव में 22 अगस्त 1924 में पैदा हुए परसाई ने लोगों के दिलों पर जो अपनी अमिट छाप छोड़ी है. उसका… Read more »

श्रीकृष्ण सच्चे अर्थों में लोकनायक हैं 

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

जन्माष्टमी – 15 अगस्त, 2017 पर विशेष -ललित गर्ग – भगवान श्रीकृष्ण हमारी संस्कृति के एक अद्भुत एवं विलक्षण महानायक हैं। एक ऐसा व्यक्तित्व जिसकी तुलना न किसी अवतार से की जा सकती है और न संसार के किसी महापुरुष से। उनके जीवन की प्रत्येक लीला में, प्रत्येक घटना में एक ऐसा विरोधाभास दीखता है… Read more »

जानिए शनि प्रदोष 19  अगस्त 2017 का महत्व ?? 

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

जानिए कैसे करें शनि प्रदोष का व्रत और शनि प्रदोष पर क्या करें उपाय ?? हमारे सनातन हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक मास में कोई न कोई व्रत, त्यौहार अवश्य पड़ता है। दिनों के अनुसार देवताओं की पूजा होती है तो तिथियों के अनुसार भी व्रत उपवास रखे जाते हैं। हमारे सनातन हिन्दू धर्म में… Read more »

पर्युषण पर्व 2017 

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

जैन धर्म में सभी पर्वों का राजा है “पर्युषण पर्व”—   प्रिय पाठकों/मित्रों, पर्यूषण पर्व जैन धर्म का मुख्य पर्व है। श्वेतांबर इस पर्व को 8 दिन और दिगंबर संप्रदाय के जैन अनुयायी इसे दस दिन तक मनाते हैं। इस पर्व में जातक विभिन्न आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधि योग जैसी साधना तप-जप… Read more »

रक्षाबंधन रिश्तों के सम्मान का पर्व

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

ललित गर्ग – रक्षाबन्धन हिन्दूधर्म का प्रमुख सांस्कृतिक, सामाजिक और पारिवारिक पर्व है। यह आपसी संबंधों की एकबद्धता एवं एकसूत्रता का सांस्कृतिक उपक्रम है। प्यार के धागों का एक ऐसा पर्व जो घर-घर मानवीय रिश्तों में नवीन ऊर्जा का संचार करता है। यह जीवन की प्रगति और मैत्री की ओर ले जाने वाला एकता का… Read more »

रक्षा बन्धन 2017

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, ज्योतिष, धर्म-अध्यात्म

12साल बाद ऐसा संयोग बना है जब राखी के दिन ग्रहण लग रहा है। इसलिए इस बार राखी के दिन सूतक का भी लगेगा || पूर्णिमा तिथि का प्रारम्भ 6 अगस्त 2017 को रात्रि10:28 बजे से आरंभ होगा परन्तु भद्रा काल व्याप्त रहेगी। भद्रा रहेगी—– आखिर भद्रा में क्यों नहीं बांधी जाती राखी? पंडित दयानन्द… Read more »

श्री कृष्ण जन्माष्टमी 15  अगस्त 2017 को कैसे मनाएं ?

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

जन्माष्टमी अर्थात कृष्ण जन्मोत्सव इस वर्ष जन्माष्टमी का त्यौहार 14/15 अगस्त 2017 को मनाया जाएगा. जन्माष्टमी जिसके आगमन से पहले ही उसकी तैयारियां जोर शोर से आरंभ हो जाती है पूरे भारत वर्ष में इस त्यौहार का उत्साह देखने योग्य होता है. चारों का वातावरण भगवान श्री कृष्ण के रंग में डूबा हुआ होता है…. Read more »