कला-संस्कृति

श्रीराम भक्त हनुमान के जन्म स्थान पर विवाद चरम पर

-अशोक “प्रवृद्ध” शक्ति, भक्ति, आस्था, बल, बुद्धि, ज्ञान, दैवीय शक्ति, बहादुरी, बुद्धिमत्ता, निःस्वार्थ सेवा-भावना आदि गुणों और अपना सम्पूर्ण जीवन...

बंगाल के जंगलमहल में ‘गाजन’ की धूम

उत्तम मुखर्जी बंगाल के जंगलमहल इलाके में जाने और गाजन उत्सव देखने का सौभाग्य हुआ । गाजन ,भोक्ता और चड़क...

वर्ष प्रतिपदा ही भारत का नव वर्ष

सुरेश हिन्दुस्थानीवर्तमान भारत में जिस प्रकार से सांस्कृतिक मूल्यों का क्षरण हुआ है, उसके चलते हमारी परंपराओं पर भी गहरा...

सनातन धर्म की ओर आकर्षित हो रहा है विश्व

भारत में सनातन धर्म का गौरवशाली इतिहास विश्व में सबसे पुराना माना जाता है। कहते हैं कि लगभग 14,000 विक्रम...

शिवत्व की प्रतिष्ठा में ही विश्व मानव का कल्याण संभव है

समाज में शिव की प्रतिष्ठा और पूजा-परंपरा देवता के रूप में प्राचीन काल से ही प्रचलित है किंतु हमारे शास्त्रों...

गुप्त नवरात्रि से पूर्ण होती हैं सभी कामनाएं

पंडित अतुल शास्त्री तंत्र साधना के लिए विशेष है यह महापर्व गुप्त नवरात्रि देगा। आपको दुर्लभ और कल्याणकारी देगा फल...

आंसू बहा रही कुमारी टुसू ; भादू भी अलविदा कह चुकी

14 जनवरी पर विशेषउत्तम मुखर्जीजो माटी अपनी भाषा-संस्कृति से मुंह मोड़ लेती है वह तरक्क़ी की राह पर कुछ कदम...

मन की भावना और परिस्थितियों की अभिव्यक्ति है “सुवा नृत्य”

अनिल अनूप सुआ नृत्य छत्तीसगढ़ राज्य की स्त्रियों का एक प्रमुख है, जो कि समूह में किया जाता है। स्त्री...

पर्यावरण संरक्षण के साथ-साथ जातिगत विभेदों से ऊपर है ‘छठ’ महापर्व

मुरली मनोहर श्रीवास्तव कांच ही बांस के बहंगिया, बहंगी लचकति जाय… बहंगी लचकति जाय…बात जे पुछेलें बटोहिया बहंगी केकरा के...

बुद्धि, समृद्धि और सौभाग्य के देवता हैं विघ्नहर्ता गणेश

गणेश चतुर्थी (22 अगस्त) पर विशेष - योगेश कुमार गोयल             हर वर्ष की भांति मंगलमूर्ति गणेश एक बार फिर...

18 queries in 0.391