अवैदिक मान्यतायें

आर्य-हिन्दुओं की सामाजिक व राजनैतिक उन्नति में बाधक उनकी अवैदिक मान्यतायें एवं वेद विरुद्ध आचरण

मनमोहन कुमार आर्य महाभारतकाल तक संसार में हिन्दू जाति का अस्तित्व कहीं दृष्टिगोचर नहीं होता।