अहम सवाल- जिन्दगी जैसी है वैसी क्यों हैं