‘क्या मौन में छुपा है कोई हल’