वोटों की फसल काटने की फिराक में कांगे्रस