एलेक्‍सा एक लाख क्लब में ‘प्रवक्‍ता’ शामिल

‘प्रवक्‍ता डॉट कॉम’ के सुधी पाठकों और लेखकों के लिए एक शुभ समाचार है। ‘प्रवक्‍ता’ एलेक्‍सा सुपरहिट एक लाख क्‍लब में कल शामिल हो गया। इसकी वर्तमान एलेक्‍सा रैंकिंग  99,424 है। गौरतलब है कि हिंदी की कुछ ही वेबसाइट एलेक्‍सा एक लाख क्‍लब में शामिल है। ‘प्रवक्‍ता’ को एक महीने में लगभग 3 लाख 60 हजार हिट्स मिल रही हैं।

आप जानते होंगे कि प्रवक्‍ता की शुरूआत 16 अक्टूबर, 2008 को हुई थी। तब से लेकर अब तक न केवल इसकी निरंतरता कायम है बल्कि हमने लगातार प्रयास किया कि इसकी गुणवत्ता का स्तर भी बढ़ता रहे। प्रवक्‍ता लोकतांत्रिक विमर्शों का मंच है, जिसका उद्देश्‍य है – मुख्यधारा की मीडिया से ओझल हो रहे जनसरोकारों से जुड़े मुद्दे को प्रमुखता देना। भाषा, विषयवस्तु और विविधता की दृष्टि से ‘प्रवक्ता डॉट कॉम’ ने दो साल से कम की अवधि में ही वेब पत्रकारिता में प्रमुख स्थान बना लिया है। प्रवक्ता डॉट कॉम’ पर राजनीति, अर्थव्यवस्था, राष्ट्रीय सुरक्षा, मीडिया, पर्यावरण, स्वास्थ्य, साहित्य, कला-संस्कृति, विश्ववार्ता, खेल से संबंधित 2500 से अधिक लेख प्रकाशित हो चुके हैं। अब तक ‘प्रवक्ता डॉट कॉम’ से 150 से भी अधिक लेखक जुड चुके हैं।

मैं ‘प्रवक्‍ता डॉट कॉम’ के संपादक के नाते सुधी पाठकों और लेखकों के प्रति आभार व्‍यक्‍त करता हूं, जिनके स्नेह और सहयोग के चलते ‘प्रवक्‍ता’ ने इस उपलब्धि को हासिल किया है और जो निरंतर हमारा हौसला अफजाई करते रहे। हमें विश्‍वास है उनका सहयोग हमें भविष्य में भी इसी तरह प्राप्‍त होता रहेगा। इसके साथ ही मैं प्रवक्‍ता के प्रबंधक श्री भारत भूषण जी के प्रति भी आभार प्रकट करता हूं जिनकी अदम्‍य जिजीविषा से यह वेबसाइट नियमित रूप से संचालित हो रही है।

संजीव कुमार सिन्‍हा

संपादक, प्रवक्‍ता डॉट कॉम

61 thoughts on “एलेक्‍सा एक लाख क्लब में ‘प्रवक्‍ता’ शामिल

  1. बधाइ सर जी
    यह मजाक नही है/ मेह्नत का फल है/ कारवा रुके नही/ बदे चलो/ प्रतिद्वन्दि ओर भी है/

    दिलीप सिकरवार

  2. संजीव जी और भूषन जी की म्हणत रंग ला रही है. हार्दिक बढ़ाई स्वीकार करें. एक शेर पेश है. सदाक़त हो कहीं भी खुद बी खुद मशहूर होती है , कभी कहती नहीं खुशबू सूंघ लो मुझ को. संपादक पब्लिक ऑब्ज़र्वर नजीबाबाद.

  3. ‘ प्रवक्ता. काम ‘ की बढ़ती लोकप्रियता और सफलता आपकी टीम के अथक प्रस्यासों के सुपरिणाम के साथ यह भी बतलाती है की परिवर्तन का दौर शुरू हु चुका हैआपके प्रयासों ने जिन बुलंदियों को छुआ है उसके लिए सम्पादक संजीव जी और भारतभूषण जी को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं. इस दौर में जब सत्य की प्रायोजित ह्त्या बड़ी बेरहमी से की जा रही है, ऐसे में . बिके राष्ट्रीय मीडिया से लोग उकताने लगे हैं. सुप्रभात के ये सुन्दर संकेत हैं. जागरण के इस काल का प्रहरी और पुरोधा बनाने की की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ आपका,

    पी. सी. रथ

  4. प्रिय मित्र संजीव जी बधाई स्वीकार करे / आशा है प्रगति का ये रथ निरंतर गतिमान रहेगा/ शुभ कामनाओ सहित आपका अपना धीरेन्द्र प्रताप सिंह देहरादून उत्तराखंड

  5. आपके प्रयासों ने जिन बुलंदियों को छुआ है उसके लिए सम्पादक संजीव जी और भारतभूषण जी को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं. राष्ट्र विरोध के इस दौर में जब सत्य की प्रायोजित ह्त्या बड़ी बेरहमी से की जा रही है, राष्ट्रीय अस्मिता की धज्जियां उड़ रही हैं ; ऐसे में ‘ प्रवक्ता. काम ‘ की बढ़ती लोकप्रियता और सफलता आपकी टीम के अथक प्रस्यासों के सुपरिणाम के साथ यह भी बतलाती है की परिवर्तन का दौर शुरू हु चुका है. देश विरोध के स्वर बुलंद करते बिके राष्ट्रीय मीडिया से लोग उकताने लगे हैं. सुप्रभात के ये सुन्दर संकेत हैं. राष्ट्र जागरण के इस काल का प्रहरी और पुरोधा बनाने की की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ आपका,
    -डा. राजेश कपूर.

  6. बधाई प्रवक्ता की पूरी टीम को हार्दिक बधाई …आप सभी ने लोकतंत्र के चौथे मज़बूत स्तम्भ के रूप में अपना एक विशेष स्थान बनाया है …इसके लिए जितनी बधाई दी जावे कम है ….विजय सोनी अधिवक्ता दुर्ग छत्तीसगढ़

  7. बधाई प्रवक्ता की पूरी टीम इसकी हक़दार है ,प्रजातंत्र के चौथे स्तम्भ-एक मज़बूत स्तम्भ के रूप में आपने जो मंच देश के लोगों को प्रदान किया उसके लिए जितनी बधाई दी जाये कम है ……विजय सोनी अधिवक्ता दुर्ग छत्तीसगढ़ .

  8. बहुत -बहुत बधाई हो भाई संजीव सिन्हा जी एवम भारत भूषण जी.
    आप लोग ओर प्रवक्ता परिवार दिन-दुनी रात चोगुनी उन्नति करे ,
    यही हम ऊपर वाले से कामना करते हैं.

  9. Congratulations!
    Dear Bharat and Sanjeev,
    It must be taken as an achievement for an idea that had started from a scratch. Keep it up.

    I wish Pravakta and you a biger success.

  10. bahut bahut badhai ho
    aap ko aur bharat bhushan ji ko aur pravakta se jude sabhi logon ko is safalta pr badhai
    dhanyavad
    Rachana

  11. बधाई हो संजीव जी.
    हमारी शुभकामनाएं आपके साथ है.

  12. A layman like me is feeling small (despite being a regular visitor of “Pravakta”), that he is unable to understand great significance that “Pravakta” is now a member of Alexa super hit one lakh Club with present Alexa ranking of 99,424 and monthly hits of 3,60,000.
    Learned Editor has incorporated a table and graph of daily traffic rank trend; but it is not being appreciated on my part on account of my ignorance. I feel that I am the sole ignorant.
    I understand that Pravakta has achieved a milestone in a short period of 1 l/2 years.
    My congratulations and I pray that Pravakta obtain much greater heights in the coming days and weeks. AMEN !

  13. श्रीमान संजीव जी, संपादक प्रवक्ता आपको बहुत बहुत बधाई.
    प्रवक्ता दिन दुनी रात चौगुनी लोकप्रियता प्राप्त कर रहा है. प्रवक्ता ke समस्त परिवार को बहुत बहुत बधाई.

  14. संजीव जी, बधाई।
    प्रवक्ता के प्रवक्ताओं को भी बधाई…।
    हम आशा करते हैं कि…जनसरोकारों से ओझल पत्रकारिता के इस दौर में वेब पत्रकारिता का ये स्तंभ पाठकों का विश्वास कभी ना खोए…।

  15. बधाई एवम्‌ शुभेच्छा सहित चेतावनी।
    जैसे जैसे प्रवक्ता आगे बढेगा, ध्यान रहे आप के विरोध के लिए षड्‍यंत्र भी रचे जाएंगे। जिन राजनैतिक बलों को प्रवक्ता एक प्रतिद्वंद्वी या उनके स्थापित हितों का विरोधक प्रतीत होगा, वे सारे आप को कुटिल (चाणक्य नीति) नीति से हानि पहुंचाना चाहेंगे। आप को खरीद भी लिया जाएगा। बडा मूल्य देने, तैय्यार होंगे, जिसका मोह किसी भी निवेशक को होना स्वाभाविक है। बहुतसे प्रतिष्ठित समाचार पत्र, दूरदर्शन इत्यादि बिक चुके हैं, जिसके फलस्वरूप जनतंत्रका अपहरण हो गयासा लगता है। चेत कर रहें। कुछ Proactive सक्रिय कदम लिए जाय। आपकी सफलता में पाठकों की भी सफलता है, हमारी भी सफलता हैं, ऐसा मैं मानता हूं।
    दुर्जन के लिए कोई सीमा नहीं होती। सीमा सज्जनों के लिए ही होती है। क्या, जनतांत्रिक मार्गों से ही जनतंत्र समाप्त किया जा सकता है? जी हां। (मैं मानता हूं।)॥शठं प्रति शाठ्यम्‌॥– कृष्णं वंदे जगत गुरू॥ यहां राम नहीं, कृष्ण का अनुसरण करना होगा।
    मुझे तो आज भी पर्याप्त टिप्पणीकारों पर और कुछ लेखकोपर संदेह, है। गलत भी हो सकता हूं।

  16. बधाई की हकदार तो प्रवक्ता परिवार है ही । इसके साथ एक बड़ी ज़िम्मेदारी भी जुड़ जाती है की लोग इस मंच का अनुचित उपयोग न करें । प्रवक्ता में प्रकाशित करने के लिए लेखक के साथ प्रकाशक का भी कॉपी राइट होना चाहिए जिससे लोग इसे एक डम्पिंग ग्राउंड न समझ लें ।
    पुनः शुभकामनाओं सहित
    डॉ महेश सिन्हा

  17. श्री संजीव कुमार सिन्हा जी,
    “प्रवक्‍ता डॉट कॉम” एलेक्‍सा सुपरहिट एक लाख क्‍लब में शामिल होने की–
    बधाई हो आपको, दिन है विशेष। प्रभु कृपा बनी रहे, चाह रहे न शेष।
    धन्यवाद

  18. प्रवक्ता ‘वास्तव में गरिमा संपन्न पत्र है
    सफलता हेतु हार्दिक शुभ कामनाएं और बधाई.

  19. धन्यवाद
    और बहुत बहुत शुभकामनायें।

  20. प्रवक्‍ता टीम को
    हार्दिक शुभकामनाएं…

  21. कोटिश: शुभकामनायें, अगले साल तक 5 लाख पाठक और जुड़ें, ऐसी कामना है…

  22. आदरणीय सम्पादकजी,
    प्रवक्ता डॉट कॉम

    इस उपलब्धि पर बधाई और शुभकामनाएँ।

    प्रवक्ता डॉट कॉम का इस एक लाख के क्लब में शामिल होना मात्र ही उपलब्धि नहीं है, बल्कि अल्पावधि में शामिल होना बडी उपलब्धि है।

    प्रवक्ता डॉट कॉम के लेखक के रूप में, मैं भी इस उपलब्धि से स्वयं को गौरवान्वित अनुभव कर रहा हँू।

    मैं आशा करता हँू कि अन्तरजाल के पाठकों में प्रवक्ता डॉट कॉम की विश्वसनीयता और तटस्थता बनी रहेगी और कदम-दर-कदम प्रवक्ता डॉट कॉम प्रगति पथ पर बढता हुआ मंजिल दर मंजिल उपलब्धि हासिल करता रहेगा।

    एक बार पुनः शुभकामनाओं सहित।

    डॉ. पुरुषोत्तम मीणा निरंकुश

  23. इस शानदार उपलब्धि के लिए
    प्रवक्‍ता डॉट कॉम के संपादक संजीवजी को
    हार्दिक बधाई।

  24. संजीव जी को हार्दिक बधाई। जिस लगन और उद्यम से आप प्रवक्‍ता को चला रहे हैं वह प्रशंसनीय है।
    प्रवक्‍ता आज वैकल्पिक मीडिया का प्रखर प्रतिनिधि बन गया है।

  25. प्रवक्‍ता टीम को
    हार्दिक शुभकामनाएं…

  26. बहुत बहुत बधाई….शुभकामनाएं सार्थक लेखन के लिए…

  27. जी बहुत बहुत मुबारक हम सभी लोगों को। आप को भी।

  28. संजीव जी बहुत बहुत बधाई। वेबसाईट के साथ मुझे भी बहुत हिट्स मिल रही है। ये आपकी लोकप्रियता का सशक्त प्रमाण है।

  29. Many Congrats to Pravakt team for their excellent contribution to e-media & society. we as NRI very happy to assiciate & read Pravakta on net sitting millions mile far from the motherland. Keep It up. Bharat Mata KI jai.
    Vipul, Lagos, West Africa.

  30. बधाई *** बधाई ****
    भाई संजीव जी .;प्रवक्ता “को एलेक्सा सुपर हिट एक लाख क्लब का सम्मानित सदस्य बन ने पर हार्दिक शुभकामनाएं .प्रवक्ता से सम्बंधित हर शख्श को दिली मुबारकवाद .मीडिया जगत में “प्रवक्ता “बुलंदियों पर पहुंचे .देश ; की जनता में विस्वसनीयता स्थापित रहे ;इस मनोकामना के साथ -क्रन्तिकारी अभिवादन सहित
    श्रीराम तिवारी विजयनगर .इंदौर

  31. आदरणीय संजीव जी मुझे यह जानकर बेहद खुशी हुई. संजीव जी यह सब आपके निःस्वार्थ अथक प्रयासों का परिणाम है. इसके लिए आप व आपके टीम के साथ प्रवक्ता के सभी पाठकों को मेरी तरफ से हार्दिक बधाई.

  32. हमारी हार्दिक शुभकामनायें….
    न हाथ एक शस्त्र हो
    न हाथ एक अस्त्र हो
    न अन्न वीर वस्त्र हो
    हटो नहीं डरो नहीं
    बढे चलो बढे चलो

  33. संजीव जी,
    इस कारवां को खेने के लिए आपका आभार और प्रवक्‍ता से जुडे हर सुधि पाठक और लेखक को बधाई

    लिमटी खरे

  34. sanjeev ji aap, team aur isse jude sabhi log badhai ke patra hain. main aasha karta hoon ki pravkta din duni aur raat chauguni tarakki kare. shubhkamnaon ke saath
    shishir chandra
    kosamba gujrat

  35. यह समाचार पढ़कर मन प्रफ्फुल्लित हो उठा. ‘प्रवक्ता’ का अलेक्सा सुपरहिट एक लाख क्लब में प्रवेश करना राष्ट्रभाषा हिन्दी के लिए सुखद बात है. जहां एक ओर सरकार राष्ट्रभाषा के लिए उदासीन दिखती हैं, वहीँ वैयक्तिक प्रयासों से लोग हिन्दी की पताका लहरा रहे हैं. प्रवक्ता का सुपरहिट एक लाख क्लब में आना यह भी साबित करता है कि यदि पाठकों के सामने सही सामग्री परोसी जाये तो टीआरपी स्वतः मिलने लगती है. मुख्यधारा का मीडिया जिस तरीके से जनसरोकार के विषयों की अनदेखी कर रहा है, ऐसे में प्रवक्ता वैकल्पिक मीडिया के लिए सही जमीन तैयार कर रहा है. संजीव जी और भारत जी आप दोनों बहुत ही महत्वपूर्ण काम कर रहे हैं, आपलोग बधाई के पात्र है.

    1. सुमित जी मैं आपके सारे, और विशेष रूपसे हिंदी के पक्षमे लिखे हुए विचारों का सहर्ष अनुमोदन करता हूं। संजीव जी और श्री. भारत भूषण जी,और सारे लेखक, एवं पाठक इन सभी का धन्यवाद करता हूं।सस्ती सामग्री परोसकर T R P पानेकी अपेक्षा, श्रेष्ठ उन्नत विचारों का वाहक प्रवक्ता अधिक सराहनीय है।

  36. प्रिय भाई संजीव जी
    संपादक
    यह जानकर अत्यंत ही प्रसन्नता हुई कि “प्रवक्ता ” को एलेक्सा सुपर हीट एक लाख क्लब में शामिल कर लिया गया है . यह हम सबके लिए गौरव की बात है . भगवान से प्रार्थना है कि यह “प्रवक्ता” आने वाले सुनहरे कल का प्रवक्ता बने .आपको व प्रबंधक श्री भारत भूषन जी को तथा समस्त प्रवक्ता परिवार को कोटिशः बधाई !

Leave a Reply

%d bloggers like this: