अलग से हो ओबीसी की जनगणना : छगन भुजबल

नागपुर। महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री छगन भुजबल ने कहा है अन्य पिछड़े वर्ग को आरक्षण की व्यवस्था मजबूत करने के लिए जनगणना में ओबीसी अलग से निष्कर्ष निकलनी चाहिए। सिविल लाइन्स स्थित रवि भवन में पत्रकारों से बातचीत में भुजबल ने कहा कि जिस तरह से जनगणना में अनुसूचिज जाति, जन जाति के लिए अलग कॉलम रख कर उनकी संख्या और अन्य निष्कर्ष निकाला जाता है, उसी तरह से ओबीसी की संख्या के साथ अन्य मामलों पर डाटा जारी होना चाहिए। उन्होंने कहा कि दूसरे राज्य में ओबीसी के नेता विशेषकर लालू प्रसाद यादव, मुलायम सिंह यादव आदि को भी अपनी पार्टी की ओर से जनगणना में ओबीसी को शामिल करने का मुद्दा उठाना चाहिए, जिससे कि केंद्र सरकार पर इस बात का दावब पड़े और वह जनगणना में ओबीसी को शामिल कर सके।

शनिवार को पृथक विदर्भ के मुद्दे पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुधीर मुनगंटीवार के भाजपा-शिवसेना गठबंधन के मुद्दे पर पूछे गए सवाल में भुजबल ने कहा कि शिवसेवा अपने कार्यों के लिए पहले से ही प्रसिद्ध है। विदर्भ मुद्दे पर गठबंधन की सरकार का जो निर्णय होगा, उसका हमारा समर्थन रहेगा। किसान आत्महत्या के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि पत्रकारों को किसानों की समस्या जोरदार तरीके से उठानी चाहिए।

आईपीएल में लगाए जाने वाले टैक्स के विषय में चर्चा करते हुए भुबजल ने कहा कि आईपीलएल काफी लोकप्रिय हो रहा है। यदि दूसरे राज्य अपने यहां होने वाले वाले आईपीएल मैच पर किसी तरह का कर लगाते हैं तो महाराष्ट्र सरकार भी इस पर विचार करेगी।

-संजय स्‍वदेश

Leave a Reply

%d bloggers like this: