लेखक परिचय

संजीव कुमार सिन्‍हा

संजीव कुमार सिन्‍हा

2 जनवरी, 1978 को पुपरी, बिहार में जन्म। दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक कला और गुरू जंभेश्वर विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्रियां हासिल कीं। दर्जन भर पुस्तकों का संपादन। राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर नियमित लेखन। पेंटिंग का शौक। छात्र आंदोलन में एक दशक तक सक्रिय। जनांदोलनों में बराबर भागीदारी। मोबाइल न. 9868964804 संप्रति: संपादक, प्रवक्‍ता डॉट कॉम

Posted On by &filed under महत्वपूर्ण लेख.


‘प्रवक्ता डॉट कॉम’ वेब पत्रकारिता का चर्चित मंच व वैकल्पिक मीडिया का प्रखर प्रतिनिधि है। इसकी शुरूआत 16 अक्टूबर, 2008 को हुई थी। ‘प्रवक्‍ता’ का उद्देश्‍य है जनसरोकारों से जुड़ी खबरों को लोगों तक पहुंचाना एवं विचारशील बहस को आगे बढ़ाना।

विचार पोर्टल प्रवक्‍ता डॉट कॉम के तीन साल पूरे होने पर एक लेख प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इससे पूर्व ‘प्रवक्‍ता’ के दो साल पूरे होने पर भी ऑनलाइन लेख प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था।

प्रतियोगिता का विषय : मीडिया में व्‍याप्‍त भ्रष्‍टाचार 

 

प्रथम पुरस्‍कार: रु. 2500/- 

द्वितीय पुरस्‍कार: रु. 1500/- 

तृतीय पुरस्‍कार: रु. 1100/- 

 

योग्‍यता : इस प्रतियोगिता में कोई भी व्‍यक्ति देश या विदेश से भाग ले सकता हैं।

अंतिम तिथि : 16 नवम्बर, 2011 तक लेख भेज सकते हैं।

शब्‍द सीमा : लेख 2000 से 3000 शब्दों के बीच का होना चाहिए।

भाषा : लेख केवल हिन्दी भाषा में होना चाहिए।

विजेता की घोषणा : 25 नवम्बर 2011 को प्रवक्‍ता डॉट कॉम पर विजेता के बारे में घोषणा की जाएगी।

अन्‍य नियम :

आपका लेख अप्रकाशित एवं मौलिक होना चाहिए।

लेख प्रवक्‍ता डॉट कॉम पर प्रकाशित किया जायेगा।

लेख के साथ जीवन परिचय (नाम/मोबाइल नंबर/ई-मेल/पता/पद आदि का जिक्र) संस्थान/ एवं फोटोग्राफ भी भेजें।

पुरस्कार की राशि चेक द्वारा दी जाएगी।

पुरस्‍कार के संबंध में निर्णायक मंडल का निर्णय ही सर्वोपरि होगा।

अपना लेख ईमेल के जरिये यूनिकोड फ़ोंट जैसे मंगल (Mangal) में अथवा क्रुतिदेव (Krutidev) में हमें निम्न पते पर भेजें-

prawakta@gmail.com

 

विस्‍तृत जानकारी के लिए सम्‍पर्क करें :

संजीव कुमार सिन्‍हा, संपादक, प्रवक्‍ता डॉट कॉम

मो. 09868964804

7 Responses to “प्रवक्ता डॉट कॉम द्वारा लेख प्रतियोगिता का आयोजन”

  1. Jeet Bhargava

    सही पहल. प्रवक्ता को बधाई. देश के ज्वलंत और हाशिये में पड़े मुद्दों पर लेखन प्रतियोगिताये निरंतर आयोजित होनी चाहिए.

    Reply
  2. भारत की जय

    आपकी सेवा देने कि बधाई हो 3 वरस के लिए मे यह ईनाम के लिए नहीं लिखता हु आगे चलते है थोड़ी अनाजी की बातों तो मे यह कहता हु कि अना जी हजारे को पहले बाबा रामदेव जी को अपने साथ करना चाहिए दोनों को एक होना होगा फिर शायद बात बन सके मेरा मानना है ये दोनों के समर्थक कम नहीं है लेकिन दोनों कि मागे अलग है तो बात मे प्रभाव हो जाता हे लेकिन बात राजनीतिक की करे तो नेता सब चोर है अपना ही सोचते है जनता को पहले विश्ववास देते है फिर अच्छा बर्ताव नहीं करते ईसमे भी कांग्रेस के जीतने भी नेता है वो सब अपने को ही प्रधानमंत्री या भगवान समझते है ये दिग्विजयसिंह जी तो एक रावन जैसा है ओर तो दिग्विजय हिन्दु का कटर विरोधी है ओर मीडिया वाले भी कमाल की बातें छाप देते है जैसे कांग्रेस का दिगि कहते है तो ओर कुछ भी बकता है मेरे को तो एसा लगता है सोनिया का जुता तक साफ करता होगा जिस तरह से बोलता है उस हिसाब से देश का आतंकवादी है कांग्रेस को मिटा देना चाहिए अभी पत्रिका मे पोलो मे लिखा है कि राहुल को कांग्रेस की कमान सभालने देना चाहिए तो मे तो कहता हु 67% वोट सभालने के लिए है अब एसे मे देश का कैसे कार्य होगा जी अभी तो बेचारे का शादी भी नहीं हुआ सोनिया गाँधी परिवार को मरवा दिया तो ये जनता को कयो छोङेगी ये तो अच्छी बात है बीजेपी जैसी बड़ी दो तीन पार्टीयां है नहीं तो कब की निकल जाती ईटली अभी चुप बैठी है कयो बोल नही सकती है क्या मन मे सोच मे पङ गया है इस को कैसे बेच सकेगी बाबाजी को रात के समय भागआ दिया अनाजी के लिए पलान तो पका कर लिया था लेकिन पब्लिक जाग रही थी ईशलिए कामयाब नही हो पाया तो मेरा तो मानना है कि एसी सरकार को केन्द्र तक नहीं पहुँचने देना चाहीय़ भगवान करे भारत की रक्षा करना भोलेनाथ शिवजी जय माँ धरती कि जो सबका भार ओर पाप सहन कर रही है

    Reply
  3. इक़बाल हिंदुस्तानी

    iqbal hindustani

    प्रवक्ता डोट कॉम को ३ साल पूरे करने पर हार्दिक बढ़ाई. अभिव्यक्ति का खुला मंच देने के लिए आपको साधुवाद.इकबाल हिन्दुस्तानी एडिटर पब्लिक ओब्सेर्वेर.नजीबाबाद

    Reply
  4. एल. आर गान्धी

    L.R.Gandhi

    निर्भीक पत्रकारिता के लिए साधुवाद ..उतिष्ठकौन्तेय

    Reply
  5. Rajesh Kashyap

    ‘प्रवक्ता डॉट कॉम’ के वेब पत्रकारिता की दुनिया में शानदार तीन वर्ष पूरे करने पर श्री संजीव कुमार सिन्हा जी एवं उनकी पूरी टीम को ढ़ेरों-ढ़ेरों हार्दिक बधाईयां एवं शुभकामनाएं। निश्चित तौर पर ‘प्रवक्ता डॉट कॉम’ ने निर्भिक एवं निष्पक्ष होकर वेब पत्रकारिता में एक नया विकल्प और नया आयाम स्थापित किया है। पुन: इस शानदार उपलब्धि पर ढ़ेरों-ढ़ेरों हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाईयां।
    -राजेश कश्यप, स्वतंत्रत पत्रकार, लेखक एवं समीक्षक, टिटौली (रोहतक) (हरियाणा)-१२४००५ (मोबाईल : ०९४१६६२९८८९)

    Reply
  6. Bipin Kishore Sinha

    प्रवक्ता.काम ने बहुत सराहनीय उपलब्धियां हासिल की है। इतनी अल्प अवधि में इतनी ऊंचाई पर पहुंचना सरल काम नहीं है। लेकिन हमें इतने से ही संतुष्ट होने की आवश्यकता नहीं है। अभी हजारों योजन की यात्रा तय करनी है। प्रवक्ता परिवार को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं।

    Reply
  7. लक्ष्मी नारायण लहरे "साहिल "

    आदरणीय ,सम्पादक जी
    सप्रेम अभिवादन ….
    तृतीय वर्ष पुरे होने पर आपको एवं प्रवक्‍ता डॉट कॉम सहयोगी मित्र बंधुओं को हार्दिक बधाई ….
    शेष -शुभ
    आपका
    लक्ष्मी नारायण लहरे ,पत्रकार कोसीर

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *