पीपल नीम आम के जंगल

होते बड़े काम के जंगल |

कितने निश्छल भोले भाले

होते तीर कमान के जंगल |

कभी कभी क्यों हो जाते हैं

बारूदी अंजाम के जंगल |

बच्चो कभी न बनने देना

ओसामा सद्दाम के जंगल |

वंशी की मधु तान सुनाते

नटनागर घनश्याम के जंगल |

रामायण के पाठ पढ़ाते

सीता राजा राम के जंगल |

बिल्कुल एक सरीखे दिखते

राम और रहमान के जंगल |

प्रेम दया करुणा सिखलाते

कृष्ण भक्त रसखान के जंगल |

सत्य अहिंसा क्षमा रटाते

श्रद्धा के गुरू नाम के जंगल |

भारत के जयनाद गुंजाते

केरल तक आसाम के जंगल |

अमर रहे गणतंत्र हमारा

गाते हिन्दुस्तान के जंगल |

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: