लेखक परिचय

अन्नपूर्णा मित्तल

अन्नपूर्णा मित्तल

एक उभरती हुई पत्रकार. वेब मीडिया की ओर विशेष रुझान. नए - नए विषयों के लेखन में सक्रिय. वर्तमान में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से पत्रकारिता में परस्नातक कर रही हैं. समाज के लिए कुछ नया करने को इच्छित.

Posted On by &filed under खान-पान.


सामग्री (Ingredients)

250 ग्राम मावा (250gm khoya)

100 ग्राम पनीर (100gm paneer)

20 ग्राम मैदा (20gm maida)

1 टेबल स्पून काजू (1 tbs cashew)

1 टेबल स्पून किशमिश (1 tbs raisins)

600 ग्राम चीनी (600gm sugar)

गुलाब जामुन तलने के लिये घी (ghee to fry gulab jamun)

 

विधि – (process)

मावा, पनीर और मैदा को एक चौड़े और बड़े बर्तन में रखकर तब तक मलें जब तक कि वह नरम, चिकना गूथे हुये आटे जैसा न लगने लगे। गुलाब जामुन बनाने के लिये मावा तैयार है।

गुलाब जामुन तलने से पहले चाशनी बना कर तैयार कर लीजिये। एक बर्तन में चीनी में, 300 ग्राम पानी (चीनी की मात्रा का आधा पानी) मिलाकर आग पर चाशनी बनने के लिये रखिये। चाशनी में जब उबाल आ जाय उसके बाद 4 -5 मिनिट तक और पकायें। चाशनी के घोल से लेकर 1-2 बूंद प्लेट में टपकायें। अंगूठे और अंगुली के बीच चिपका कर देख लें सिर्फ एक ही तार बने। एक तार की चाशनी तैयार करें। ठंडा करें और छान लीजिये।

तैयार मावा से थोड़ा सा मावा (करीब एक छोटी चम्मच) अंगुलियों की सहायता से निकालिये, उसे हथेली पर रखकर चपटा करके 3-4 काजू के टुकड़े और एक किशमिश उसमें भरने के लिये उसके ऊपर रखें। मावा को चारों ओर से उठा कर काजू किशमिश को मावा के अन्दर बन्द कर दीजिये, अब दोनों हथेलियों के बीच रख कर गोल करिये, मावा का गोला अच्छी तरह बन जाने के बाद प्लेट में रख लीजिये। सारे गोले इसी तरह तैयार कर लीजिये।

कढ़ाई में घी डाल कर गरम कीजिये। गुलाब जामुन तलने से पहले टेस्ट कर सकते हैं (एक गुलाब जामुन को घी में डाल कर तलें यदि गुलाब जामुन घी में फट रहा है, तब गुलाब जामुन के मावा में थोड़ा मैदा और मिलायें)।

3-4 गोले, कढ़ाई में डालें और तलें, गैस की फ्लेम धीमी रखें। गुलाब जामुन को तलते समय उस पर कलछी न लगायें बल्कि गरम गरम घी उसपर कलछी से डालें और ब्राउन होने के बाद हल्के से हिला हिला कर तलें, गुलाब जामुन के चारों तरफ ब्राउन होने तक तल लीजिये। तले गुलाब जामुन कढ़ाई से निकाल कर प्लेट में रखिये। थोड़ा ठंडा होने पर, 2 मिनिट बाद चाशनी में डुबा दीजिये। इसी तरह सारे मावा के गोल गोल गुलाब जामुन बनाकर, तल कर चाशनी में डाल कर डुबा दीजिये।

तले गुलाब जामुन को इस चाशनी में डाल दीजिये। 1-2 घंटे में गुलाब जामुन मीठा रस सोखकर मीठे और स्वादिष्ट हो जायेंगें।

 

परोसने का तरीका (process of serving) – गुलाब जामुन तैयार हैं। इन्हें गरम गरमा या ठंडे परोसिये और खाइये।

 

 

2 Responses to “गुलाब जामुन ; Gulab Jamun Recipe”

  1. Garvin

    Kya hum बिना पनीर क b गुलाबजामुन बना सकते hain

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *