लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under मीडिया.


चर्चित वेबसाइट ‘मोहल्‍लालाइव’ के दो साल पूरे होने के मौके पर  ‘थोड़ी कहानी थोड़े से गीत’ कार्यक्रम का शानदार आयोजन किया गया। 15 जून को इंडिया हैबिटेट सेंटर, नई दिल्‍ली में आयोजित इस समारोह में ‘बैंड कॉल्ड नाइन’ की टीम ने अभिनव प्रयोग करते हुए कहानी के साथ सुमधुर गीत सुनाकर श्रोताओं को मंत्रमुग्‍ध कर दिया। विदित हो कि ‘हिन्दुस्तान टाइम्स’ के वरिष्‍ठ पत्रकार रहे  नीलेश मिश्रा ने  दो साल पहले मुबंई में अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर इस बैंड की शुरुआत की थी।

नीलेश ने छोटे शहर की कहानी को खूबसूरती से बयां करते हुए प्‍यार, घर से भाग कर शादी और रिश्‍तों की कसक के किस्‍से सुनाकर सबको भावनाओं से ओत-प्रोत कर दिया तो संगीतकार व गायिका शिल्‍पा राव एवं अभिषेक ने उस पूरी कहानी को सुर और लय देकर कार्यक्रम में समां बांध दिया।

इस अवसर पर मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त एसवाई कुरैशी, मशहूर टीवी पत्रकार दिबांग, विधु विनोद चोपड़ा के भाई और उनकी तमाम फिल्‍मों के क्रिएटिव प्रोड्यूसर वीर चोपड़ा और पंजाब के युवा सामाजिक कार्यकर्ता केपी सिंह ने बैंड कॉल्‍ड नाइन की पहली सीडी ‘रीवाइंड : नाइन लॉस्‍ट मेमोरीज’ का विमोचन किया।

दिबांग ने पत्रकारिता से संस्‍कृतिकर्म के नीलेश के यू-टर्न पर नयी-पुरानी यादों का सिरा जोड़ते हुए कुछ बेहतरीन बातें कही।  इस कार्यक्रम के शुरू में युवा मीडिया आलोचक विनीत कुमार ने मोहल्‍ला लाइव के सफर के बारे में दर्शकों को बताया। आखिर में केपी सिंह ने धन्‍यवाद ज्ञापन किया।(विज्ञप्ति)

चित्र परिचय

(क)बैंड कॉल्‍ड नाइन की टीम परफॉर्म करते हुए। छाया : मिहिर पंड्या

(बाएं से) आदित्‍य बेनिया (गिटार), हितेश मोदक (कीबोर्ड स्‍कोर), सपना देसाई (ड्रम) और नैना कुंडू (गिटार)

(ख)रीवाइंड : नाइन लॉस्‍ट मेमोरीज। सीडी रीलीज। बायें से गीतकार नीलेश मिश्रा, गायिका शिल्‍पा राव, मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त एमवाई कुरैशी, मोहल्‍ला लाइव के मॉडरेटर अविनाश (पीछे से झांकते हुए), युवा सामाजिक कार्यकर्ता केपी सिंह, टीवी पत्रकार दिबांग और प्रोड्यूसर वीर चोपड़ा।

One Response to “‘मोहल्‍लालाइव’ के दो साल पूरे होने पर संगीत समारोह संपन्‍न”

  1. ek pathak

    अच्छा है … देख कर ख़ुशी हो रही है की प्रवक्ता.कॉम भी गंदगी फ़ैलाने वाली मोहल्ला से हाथ मिला रही है /…… वैसे भी प्रवक्ता का चाल चरित्र बदल चूका है …. धार खो गयी है …… इंटरनेट पर लिखने वाले अह्दिकंश लोगों का एग्रीगेटर बनकर रह गया है……. बस लेख संग्रह करते रहिये ……. विचारधारा गयी बहद में ……

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *