लेखक परिचय

अनिल अनूप

अनिल अनूप

लेखक स्‍वतंत्र टिप्‍पणीकार व ब्लॉगर हैं।

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


अनिल अनूप
पाकिस्तान में किन्नरों की बर्बर हालत के बीच लाहौर कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। लाहौर कोर्ट के फैसले के मुताबिक किन्नरों को जनगणना में शामिल किया जाना चाहिए। कोर्ट के आदेश के बाद सरकार ने कहा कि साल 2017 की जनगणना में देश के किन्नरों को भी शामिल करना शुरू कर दिया जाएगा। जिसके मुताबिक ये किन्नर प्रोपर्टी में हिस्सा लेने के साथ-साथ वोट डालने का अधिकार पा सकेंगे।
बता दें कि पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने किन्नरों के अधिकार के लिए पहले भी कई निर्देश जारी किए थे। तब भी किन्नरों को पाकिस्तान में रेप, शोषण और हत्या का शिकार अक्सर होना पड़ता है। आईए बताते हैं वो वारदातें जिनमें उनके साथ रेप, और शोषण के कई मामले सामने आए।
अलीशा एक ऐसा ट्रांसजेंडर था जिसे छह बार गोली मार कर मौत के घाट उतारा गया। अलीशा, पख्तुन्खवा में किन्नरों के हक की लड़ाई लड़ने वाला नामी कार्यकर्ता था। हत्या के दिन हालात ये थे कि जब अलीशा को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, तो कथित तौर पर टाइम से इलाज न मिलने की वजह से उसकी मौत हो गई। अलीशा के दोस्त फरजाना जान ने बताया कि ट्रांसजेंडर होने की वजह से उसके साथी के साथ ऐसा दुर्रव्यवहार किया गया।
अलीशा की हत्या जिस प्रांत में की गई वहां अक्सर किन्नरों के साथ रेप, हत्या और शोषण की वारदातें सामने आती रहती हैं। यहीं अलीशा के साथ-साथ करीब पांच और किन्नरों को मौत के घाट उतारा जा चुका है और ये सभी किन्नरों कार्यकर्ता थे जो पाकिस्तान में किन्नरों के अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ते थे।
कर्ज मांगा तो गोली से उड़ाया
अलीशा के बाद लेन-देन के संबंध में एक दीदार नाम के किन्नर को मौत के घाट उतार दिया गया। बताया जाता है कि दीदार ने शहिद नाम के एक शख्स को अपना पैसा दिया हुआ था और वारदात के दिन वह उसके पास गई थी।
दीदार के मुताबिक उसने शहीद को 1 लाख रुपये उधार दिए थे, पर वह पैसा नहीं लौटा रहा था। जब दीदार ने अपना पैसा वापस मांगा तो उसे मौत के घाट उतार दिया गया।
यही नहीं सोशल नेटवर्किंग साइट यूट्यूब पर भी पाकिस्तान में किन्नर के हालात पर एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें किन्नर को बेल्ट से पीटा गया था। दिल को दहला देने वाले इस वीडियो में किन्नर रहम की भीख मांगता रहा था लेकिन सनकी शख्स उसके पीठ पर बेल्ट की बरसात करता रहा। घटना पाकिस्तान के  सियालकोट क्षेत्र की है। हैवानियत से भरे इस वीडियो को देखकर लोगों में खासी नाराजगी देखी गई।
वीडियो में आरोपी ने किन्नर की गर्दन पर लात रखी हुई है और उसके दोनों हाथ बांधे हुए थे। इसके बाद वह उसका सूट ऊपर करके लगातार बेल्ट मारने लगा। मामले के तूल पकड़ने के बाद पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया।
बता दें कि जिस प्रांत में अलीशा को मौत के घाट उतारा गया वहां करीब 45 हजार किन्नर रहते हैं। इनमें से ज्यादातर पार्टियों में डांस करते हैं, तो कुछ मंडली बनाकर पैसे कमाते हैं। इन्हीं वजहों से देश में किन्नरों को रेप, हत्या और यौन शोषण जैसे घिनौने अपराधों का शिकार होना पड़ता है। किन्नर कार्यकर्ता नसीम ने बताया कि किन्नरों को शादी-पार्टियों में बुला लिया जाता है और बाद में उनसे गनप्वांइट पर रेप किया जाता है। इनता ही नहीं किन्नरों से जबरन पैसे भी वसूल लिए जाते हैं। 2009 तक तो यहां किन्नरों के पास पहचान पत्र तक नहीं था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *