डॉक्टरी के धंधे में क्रांति की जरुरत

Posted On by & filed under विविधा, सार्थक पहल

डॉ. वेदप्रताप वैदिक भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने डाॅक्टरी के धंधे पर जबर्दस्त प्रहार किया है। उसने अपने फैसले में कहा है कि यह पवित्र कार्य अब ‘धंधा’ बन गया है, जिसका लक्ष्य सिर्फ पैसा कमाना रह गया है। सारे देश में डाॅक्टरी का यह धंधा भारतीय मेडिकल कौंसिल की देख-रेख में चलता है। यह… Read more »

भ्रष्ट मेडिकल कौंसिल की बिदाई

Posted On by & filed under विविधा

भारत का सर्वोच्च न्यायालय आजकल छक्के पर छक्के लगा रहा है। जो काम सरकार को करना चाहिए और वह नहीं करती है, उसे सर्वोच्च न्यायालय उसके कान मरोड़कर करवाता है। कल उसके दो फैसले आए। ये दोनों ही फैसले देश की चिकित्सा-व्यवस्था से संबंधित हैं। सर्वोच्च न्यायालय ने भारत की मेडिकल कौंसिल को लगभग भंग… Read more »