वेद और तर्क पूर्ण सत्य मान्यता