रेणुका जी! यह हंसी नहीं बदतमीजी है?

Posted On by & filed under राजनीति

कांगे्रस की नकारात्मक मानसिकता ने किया अर्थ का अनर्थ सुरेश हिन्दुस्थानी किसी के द्वारा कही गई बात का हर कोई इसलिए अलग-अलग अर्थ लगा सकता है, क्योंकि सबकी मानसिकता एक जैसी नहीं होती। अब कांगे्रस की वरिष्ठ नेत्री रेणुका चौधरी की हंसी को ही लीजिए। उसका कांगे्रस ने अर्थ लगा दिया और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी… Read more »