Devika Rani

युग से आगे की सोच रखती थीं ‘देविका रानी’

देविका को भारतीय सिनेमा के सर्वोच्च पुरुस्कार दादा साहेब फाल्के पुरुस्कार और सोवियत लैंड नेहरु पुरुस्कार सहित कई दर्जनों सम्मान मिले | फिल्मो में अलग होने के बाद भी वह विभिन्न कलाओं से जुडी रही | अपने दिलकश अभिनय से दर्शको के दिलो पर राज करने वाली देविका 9 मार्च 1994 को 85 वर्ष की उम्र में इस दुनिया से अलविदा कह गयी |