dissapearing handart

लुप्त होता हुनर – ब्रजेश झा

भागलपुर शहर का एक खास इलाका है। नाम है चंपानगर। यहां कभी ‘चंपा’ नदी हुआ करती थी। और इसके पास बसे लोग बुनकर थे। मालूम नहीं कब यह नदी नाले का रूप पा गई।