लेखक परिचय

डॉ. वेदप्रताप वैदिक

डॉ. वेदप्रताप वैदिक

‘नेटजाल.कॉम‘ के संपादकीय निदेशक, लगभग दर्जनभर प्रमुख अखबारों के लिए नियमित स्तंभ-लेखन तथा भारतीय विदेश नीति परिषद के अध्यक्ष।

अयोध्या का हल सिर्फ बातचीत से ही होगा

Posted On & filed under विविधा.

सबसे महत्वपूर्ण बात तो यह है कि गड़े मुर्दे न उखाड़े जाएं। भविष्य की सोची जाए। अयोध्या-विवाद का समाधान कुछ ऐसा हो कि जो भारत के अन्य इसी तरह के दर्जनों विवादों का भी हमेशा के लिए शांत कर दे। दोनों संप्रदायों में प्रेम और सदभाव बढ़ाए। करोड़ों हिंदू और मुसलमानों को ऐसा लगे कि हमारी भावनाओं का सम्मान हुआ है। किसी के साथ कोई ज्यादती नहीं हुई है।

सरकारी भर्तियां: नींद कब खुलेगी?

Posted On & filed under विधि-कानून, विविधा.

इस नीति के विरुद्ध कुछ प्रबुद्ध सांसदों ने कल राज्यसभा में आवाज उठाई है। उनमें से कुछ सांसद मेरे पुराने साथी हैं। उन्हें मैं बधाई देता हूं। अब से लगभग 25 साल पहले मैंने इस भाषा नीति के विरुद्ध एक जोरदार आंदोलन चलाया था।



स्वास्थ्य नीति बेहतर बनाएं

Posted On & filed under विविधा.

सबसे ज्यादा जरुरी यह है कि इन चिकित्सा-पद्धतियों में नए-नए वैज्ञानिक अनुसंधानों को प्रोत्साहित किया जाए। यदि देश में डाक्टरों की कमी पूरी करनी हो तो मेडिकल की पढ़ाई स्वभाषाओं में तुरंत शुरु की जानी चाहिए। आज देश में एक भी मेडिकल कालेज ऐसा नहीं है, जो हिंदी में पढ़ाता हो। सारी मेडिकल की पढ़ाई और इलाज वगैरह अंग्रेजी माध्यम से होते हैं। यही ठगी और लूटपाट का सबसे बड़ा कारण है।

भारत के लिए खतरे की घंटी

Posted On & filed under विविधा.

लखनऊ के ठाकुरगंज इलाके में लंबी मुठभेड़ के बाद सैफुल्लाह मारा गया है। यह इन आतंकियों का सरगना है। सभी आतंकी के घर से जो कागजात, पुर्जे, बारुद और हथियार मिले हैं, उनसे पता चलता है कि उज्जैन के करीब हुए विस्फोट का बम यहीं बना था।

पाक-फौज कब कमर कसेगी?

Posted On & filed under विश्ववार्ता.

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जनरल महमूद अली दुर्रानी ने दो-टूक शब्दों में आतंकवाद के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराया है। वे दिल्ली में ‘इंस्टीट्यूट फार डिफेंस स्टडीज एंड एनालिसीस’ के एक सम्मेलन में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि मुंबई में हुआ हमला पाकिस्तान के आतंकवादियों ने ही किया था लेकिन उन्होंने साथ-साथ… Read more »

पाखंडी साधुओं की पोल कौन खोलेगा?

Posted On & filed under समाज.

अभी नोएडा की पुलिस ने एक ‘बिल्डर बाबा’ को गिरफ्तार किया है। यह बाबा संन्यासी का भेस धारण करके लोगों को ठगता रहा है। इसने सस्ते फ्लैट बेचने के नाम पर करोड़ों रु. की ठगी की है। लगता है, यह बाबा आसाराम और उसके लड़के की तरह भोला है। वरना भारत में बाबा लोगों पर… Read more »

कठोरतम सजा की जरुरत

Posted On & filed under समाज.

आज के अखबारों में दो खबरें ऐसी हैं, जो बहुत बेचैन कर देती हैं। एक तो फौज की भर्ती-परीक्षा के प्रश्न पत्र का पहले से ‘आउट’ या ‘लीक’ हो जाना और दूसरा, मप्र के कुख्यात व्यापम घोटाले के छात्रों द्वारा चोरी और सीनाजोरी करना याने जांच के दौरान यह झूठ बोलना कि उनकी जगह किसी… Read more »

शादियां: कश्मीर दिखा रहा रास्ता

Posted On & filed under समाज.

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने वह कर दिखाया है, जो देश के हर मुख्यमंत्री को करना चाहिए। शादियों में होने वाले अनाप-शनाप खर्च पर रोक लगाने का जो विधेयक संसद में आ रहा है, उस पर मुहर लगे या न लगे लेकिन हर प्रदेश की सरकार चाहे तो वह ऐसे कड़े कानून बना सकती… Read more »

अदालतों से अंग्रेजी को भगाओ

Posted On & filed under विधि-कानून, विविधा.

कानून और न्याय की संसदीय कमेटी ने बड़ी हिम्मत का काम किया है। उसने अपनी रपट में सरकार से अनुरोध किया है कि वह सर्वोच्च और उच्च न्यायालयों में भारतीय भाषाओं के प्रयोग को शुरु करवाए। उसने यह भी कहा है कि इसके लिए उसे सर्वोच्च न्यायालय की अनुमति या सहमति की जरुरत नहीं है,… Read more »

मांसाहारी भारत?

Posted On & filed under विविधा.

दुनिया में सबसे ज्यादा शाकाहारी किस देश में रहते हैं? जाहिर है कि भारत में रहते हैं। दुनिया का कोई देश ऐसा नहीं हैं, जिसके लाखों-करोड़ों नागरिकों ने अपने जीवन में मांस, मछली, अंडा जैसी कोई चीज़ कभी खाई ही नहीं। दुनिया का ऐसा कौन सा देश है, जिसमें इन पदार्थों को ‘अखाद्य’ (न खाने… Read more »