लेखक परिचय

पंडित दयानंद शास्त्री

पंडित दयानंद शास्त्री

ज्योतिष-वास्तु सलाहकार, राष्ट्रीय महासचिव-भगवान परशुराम राष्ट्रीय पंडित परिषद्, मोब. 09669290067 मध्य प्रदेश

क्यों कहते हैं शिवरात्रि ?

Posted On & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म, पर्व - त्यौहार.

वर्ष 2017 महा शिवरात्रि —————————————————————————————- महाशिवरात्रि 2017 में 24 फरवरी— निशिथ काल पूजा- 24:08 से 24:59 पारण का समय- 06:54 से 15:24 (25 फरवरी) चतुर्दशी तिथि आरंभ- 21:38 (24 फरवरी) चतुर्दशी तिथि समाप्त- 21:20 (25 फरवरी) ——————————————————————- हिंदु शास्त्रों के अनुसार भगवान शिव मनुष्य के सभी कष्टों एवं पापों को हरने वाले हैं। सांसरिक कष्टों… Read more »

जानिए गृह वास्तु पूजन का प्रभाव, वास्तु पूजन का महत्त्व और वास्तु पूजन के लाभ-हानि —

Posted On & filed under कला-संस्कृति, विविधा.

वास्तु का अर्थ है एक ऐसा स्थान जहाँ भगवान और मनुष्य एक साथ रहते हैं। हमारा शरीर पांच मुख्य पदार्थों से बना हुआ होता है और वास्तु का सम्बन्ध इन पाँचों ही तत्वों से माना जाता है। कई बार ऐसा होता है कि हमारा घर हमारे शरीर के अनुकूल नहीं होता है तब यह हमें… Read more »



केसा हो पति पत्नी के बीच प्यार….

Posted On & filed under समाज.

कौन नहीं चाहता या जनता इन शब्दों को–प्रेम, प्यार, इश्क, मोहब्बत, नेह, प्रीति, अनुराग, चाहत, आशिकी, अफेक्शन, लव। ओह! कितने-कितने नाम। और मतलब कितना सुंदर, सुखद और सलोना। आज प्रेम जैसा कोमल शब्द उस मखमली लगाव का अहसास क्यों नहीं कराता जो वह पहले कराता रहा है? जो इन नाजुक भावनाओं की कच्ची राह से… Read more »

आइये जानें वर्ष 2017 के सम्पूर्ण व्रत एवं त्योहार

Posted On & filed under वर्त-त्यौहार, विविधा.

जानिए जनवरी 2017 महीने के व्रत, पर्व एवम त्यौहार:– 1, रविवार अंग्रेजी नव वर्ष 3, मंगलवार शुक्ल पंचमी 8, रविवार पुत्रदा एकादशी 12, गुरुवार पौष पूर्णिमा 14, शनिवार मकर संक्रांति 15, रविवार गणेश चतुर्थी 17, मंगलवार कृष्ण पंचमी 23, सोमवार षटतिला एकादशी, 24, शनिवार व्रत पूर्णिमा 27, शुक्रवार मौनी अमावश्या फरवरी 2017 1, बुधवार वसंत… Read more »

जानिए आपके कपड़े से आपका व्यक्तित्व

Posted On & filed under विविधा.

कपड़े ना सिर्फ शरीर ढकने के काम आते है बल्कि हमारे व्यक्तित्व,व्यवसाय,स्तर के साथ साथ हमारे चरित्र,व्यवहार,आत्मविश्वास को भी दर्शाने के काम आते हैं किसी भी व्यक्ति को उसके कपड़े पहनने के तरीके से,कपड़ो के रंग से,कपड़ो की गुणवत्ता से अर्थात पहनावे से सरलता से पहचाना जा सकता हैं की उसका सामाजिक स्तर उसकी सोच… Read more »

ऐसे करें भगवान् शिव जी की आराधना —-

Posted On & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म.

ऐसे करें भगवान् शिव जी की आराधना —- ।। || ॐ वन्दे देव उमापतिं सुरगुरुं,वन्दे जगत्कारणम् lवन्दे पन्नगभूषणं मृगधरं,वन्दे पशूनां पतिम् लाल वन्दे सूर्य शशांक वह्नि नयनं,वन्दे मुकुन्दप्रियम् lवन्दे भक्त जनाश्रयं च वरदं,वन्दे शिवंशंकरम।।। भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए कुछ छोटे और अचूक उपायों के बारे शिवपुराण में भी लिखा है, ये उपाय… Read more »

जानिए क्या करें ऑफिस में सबका चहेता बनने के लिए —

Posted On & filed under विविधा.

  प्रिय पाठकों, आज के समय पर जॉब मिलना आसान नहीं है और अगर आपको मन चाही जॉब मिल भी गई तो भी कुछ लोग ऐसे होते हैं, जिनके कारण आपको ऑफिस काटने को दौड़ता है। हर एक ऑफिस में मौजूद इस तरह के लोगों से छुटकारा पाना आसान नहीं होता है। हम अपने दिन… Read more »

जानिए की मकान की नींव खुदाई के समय किन बातों का रखें ध्यान —

Posted On & filed under समाज.

भारतीय समाज में अनेक शास्त्र पाये जाते हैं. इनमे से एक शास्त्र है ‘वास्तु शास्त्र’ है, जिसका प्रयोग प्राचीन समय से ही किया जाता है. वास्तु शास्त्र का हमारे जीवन में बहुत महत्तव होता है. जिस प्रकार मनुष्य के शरीर में रोग के प्रविष्ट करने का मुख्य मार्ग मुख होता है उसी प्रकार किसी भी… Read more »

शुभ कार्यों और शादियों पर लगेगा ब्रेक, 15 दिसम्बर 2016 से मलमास होगा आरम्भ..

Posted On & filed under ज्योतिष, धर्म-अध्यात्म.

सूर्य के बृहस्पति की धनुराशि में गोचर करने से 15 दिसम्बर 2016 से खरमास शुरू हो जाएगा। यह स्थिति 14 जनवरी 2017 तक रहेगी। इस कारण मांगलिक कार्य नहीं होंगे। जैसे ही 15 दिसंबर को सूर्य ग्रह धनु राशि में प्रवेश करेगा। मलमास शुरू हो जाएगा और इसी के साथ शादी विवाह पर ब्रेक लग जाएगा। ज्योतिषाचार्य 15 दिसंबर 2016 को ग्रहों का राजा सूर्य रात 8:53 बजे धनु राशि में प्रवेश करेगा। मलमास प्रारंभ हो जाएगा।

जानिए आपकी राशि अनुसार आपका भोजन ..???

Posted On & filed under खान-पान, विविधा.

सभी खाद्य पदार्थ चाहे वे किसी भी रूप-स्वरूप में हों जैसे तरल खाद्य पदार्थ, अनाज, दाले, फल, सब्जियाँ, मेवे इत्यादि भी अपने-अपने गुणों व स्वादों के अनुसार किसी न किसी ग्रह का प्रतिनिधित्व करते हैं। आप ग्रह-नक्षत्रों के अशुभ फल को कुछ खाकर शुभ फल में बदल सकते हैं। क्या सचमुच ऐसा हो सकता है? कहते हैं कि जैसा खाओगे अन्न, वैसा बनेगा मन।