क्यों कहते हैं शिवरात्रि ?

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म, पर्व - त्यौहार

वर्ष 2017 महा शिवरात्रि —————————————————————————————- महाशिवरात्रि 2017 में 24 फरवरी— निशिथ काल पूजा- 24:08 से 24:59 पारण का समय- 06:54 से 15:24 (25 फरवरी) चतुर्दशी तिथि आरंभ- 21:38 (24 फरवरी) चतुर्दशी तिथि समाप्त- 21:20 (25 फरवरी) ——————————————————————- हिंदु शास्त्रों के अनुसार भगवान शिव मनुष्य के सभी कष्टों एवं पापों को हरने वाले हैं। सांसरिक कष्टों… Read more »

मेड इन इंडिया से घुमेेगी कुम्हारों की चाक

Posted On by & filed under आर्थिकी, पर्व - त्यौहार, विविधा

हमें भारतीय परम्परा को जि़ंदा रखने का जूनून पैदा करना
है।इस जुनून में आप भी अपने भारतीय होने की भूमिका जरूर निभायें।चीन का
सामान कम से कम खरीदें जिससे भारत के गरीबों द्वारा बनाये गए सामान
खरीदने का पैसा बच सके।यकीन जानिये आप अगर हम अब भी नही चेते तो शायद
कुम्हार का घूमता हुआ चाक रुक जाएगा,मंहगाई और मरता हुआ व्यापार कहीं
कुम्हारों को कहानी न बना दे।

भाई-बहन के आत्मीय रिश्तों का अनूठा त्यौहार : भैया दूज

Posted On by & filed under पर्व - त्यौहार, समाज

हिन्दू समाज में भाई-बहन के पवित्र रिश्तों का प्रतीक पर्व है भैया दूज। बहन के द्वारा भाई की रक्षा के लिये मनाये जाने वाले इस पर्व को हिन्दू समुदाय के सभी वर्ग के लोग हर्ष उल्लास से मनाते हैं।

स्वच्छता व प्रकाश की प्रतीक दीपावली 

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म, पर्व - त्यौहार, विविधा

दीपावली स्वच्छता व प्रकाश का पर्व है। लोग कई दिनों पहले से ही दीपावली की तैयारियाँ आरंभ कर देते हैं, और सब अपने घरों, प्रतिष्ठानों आदि की सफाई का कार्य आरंभ कर देते हैं। दिवाली के आते ही घरों में मरम्मत, रंग-रोगन, सफेदी आदि का कार्य होने लगता है। लोग अपने घरों और दुकानों को साफ सुथरा कर सजाते हैं। इसके पीछे मान्यता है कि लक्ष्मी जी उसी घर में आती है यहाँ साफ-सफाई और स्वच्छता होती है।

दीवाली उपहार है हिंदुत्व की परिभाषा की पुनर्स्थापना

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, जन-जागरण, धर्म-अध्यात्म, पर्व - त्यौहार

हिन्दुस्थानियों के एक बड़े व महान पर्व दीवाली के एन पूर्व पिछले सप्ताह एक हलचल कारी घटना हुई , जिसनें हिन्दुओं की दीवाली पूर्व ही दीवाली मनवा दी हुआ यह कि देश केउच्चतम न्यायालय ने यह जांच प्रारम्भ की कि हिंदुत्व भारतीय जीवन शैली का हिस्सा है या फिर धर्म है. तीस्ता सीतलवाड़ द्वारा दायर… Read more »

दीये मुंडेर पर ही नहीं, घट में भी जलने चाहिए

Posted On by & filed under पर्व - त्यौहार, समाज

अधिकतर लोग सिर्फ धन अर्जन को ही सफलता मान लेते हैं और इसी कारण जीवन का रोमांच, उमंग और आनंद उनसे दूर चला जाता है, जबकि गुणों को कमाने वाले लोगों के पास धन एक सहज परिणाम की तरह चला आता है। इसी में शोहरत भी अप्रयास मिल जाती है। साधारणता में ही असाधारणता फलती है। जड़ को सींचने से पूरे पौधे में फल-फूल आते हैं, जबकि टहनियों को भिगोते रहने से जड़ के साथ ही टहनियां भी सूख जाती हैं।

महासंयोग शारदीय नवरात्र 2016 पर

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, जन-जागरण, पर्व - त्यौहार, विविधा

हमारी भारतीय सनातन संस्कृति में शारदीय नवरात्र विशेष महत्व रखती है।जिसके कई पौराणीक प्रमाण हमारे धर्म ग्रंथों में बताए गये हैं।नौ दिनो तक चलने वाले नवरात्र के महोत्सव में मां भगवती के नौ रुपों की पूजा-आराधना बड़े ही विधि विधान से की जाती है। इस वर्ष शारदीय नवरात्रे 2016 में अक्टूबर (शनिवार ) से 10… Read more »

जैन समाज का महाकुंभ पर्व है पर्युषण

Posted On by & filed under पर्व - त्यौहार

ललित गर्ग- भारत पर्वों और त्यौहारों का देश है, उनमें न केवल भौतिक आकर्षण से पर्व है बल्कि आत्म साधना और त्याग से जुड़े पर्व भी है। एक ऐसा ही अनूठा पर्व है पर्युषण महापर्व । यह मात्र जैनों का पर्व नहीं है, यह एक सार्वभौम पर्व है, मानव मात्र का पर्व है। पूरे विश्व… Read more »

कहां गये वो लोग ?

Posted On by & filed under जन-जागरण, पर्व - त्यौहार, समाज

राकेश कुमार आर्य देश अपने 70वें स्वतंत्रता दिवस के रंग में रंग गया है। सचमुच यह पावन पर्व हमें अपने स्वतंत्रता सैनानियों और अमर बलिदानियों के उद्यम और पुरूषार्थ का स्मरण कराकर अपने देश के प्रति समर्पित भाव से जीने के लिए प्रेरित करता है। भारत की संस्कृति की महानता का राज ही यह है… Read more »

आखिर क्यूँ है हिन्दू धर्म में श्रावण (सावन) माह का महत्व!!

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म, पर्व - त्यौहार

जानिए की कैसे और किस शुभ घड़ी में करें श्रावण मास में भगवान शिव का पूजन— भगवान शिव की भक्ति का प्रमुख माह श्रावण 20 जुलाई 2016 से प्रारंभ होने जा रहा है। पूरे माह भर भोलेनाथ की पूजा-अर्चना का दौर जारी रहेगा। सभी शिव मंदिरों में श्रावण मास के अंतर्गत विशेष तैयारियां की गई… Read more »