लेखक परिचय

विनोद कुमार सर्वोदय

विनोद कुमार सर्वोदय

राष्ट्रवादी चिंतक व लेखक ग़ाज़ियाबाद

संविधान नही आस्थाओं के व्यापार पर संकट”

Posted On & filed under राजनीति.

विनोद कुमार सर्वोदय यह अत्यंत दुःखद है कि जब से देश में भाजपानीत सरकार अस्तित्व में आयी है और श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में अनेक प्रकार की विकास परक नीतियों का योजनाबद्ध ढंग से किर्यान्वन किया जा रहा है फिर भी कुछ विदेशी शक्तियों द्वारा नियुक्त उनके भारतीय एजेंटों ने राष्ट्रवादी कहे जाने वाली… Read more »

‘हिन्दू राष्ट्र’ के उत्तराधिकारी बनें …

Posted On & filed under राजनीति.

विनोद कुमार सर्वोदय “इस जगत में यदि हम हिन्दू राष्ट्र के नाते स्वाभिमान का जीवन जीना चाहते हैं तो उसका हमें पूरा अधिकार है और वह राष्ट्र हिन्दुराष्ट्र के ध्वज के नीचे ही स्थापित होना चाहिए। इस पीढ़ी में नही तो अगली पीढ़ी में मेरी यह महत्वाकाँक्षा अवश्य सही सिद्ध होगी। मेरी महत्वाकाँक्षा गलत सिद्ध… Read more »



कश्मीर में रमजान पर युद्ध-विराम

Posted On & filed under राजनीति.

विनोद कुमार सर्वोदय जिस कश्मीर में “भारत काफ़िर है” के नारे लगाए जाते हो वहां युद्ध-विराम का क्या औचित्य है ? अनेक आपत्तियों के उपरांत भी केंद्रीय सरकार ने जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती की मांग को मानते हुए रमजान माह  (अवधि लगभग 30 दिन ) में सेना को आतंकियों के विरोध में अपनी ओर… Read more »

राष्ट्रीय प्रतिष्ठा को क्षति

Posted On & filed under समाज.

अनेक वर्षों से विभिन्न दैनिक समाचार पत्रों से यह ज्ञात होता रहता है कि अधिकांश नाबालिग बालिकाओं के साथ दुष्कर्म किया जाता हैं। अनेक अवसरों पर एक विशेष समुदाय के आपराधिक प्रवृत्ति के लोग ही ऐसे दुष्कर्मों में व्यक्तिगत व सामूहिक रुप से लिप्त पाये जाते हैं। ऐसे दुष्कर्मों में  पीड़ित बालिकाएं या युवतियां या… Read more »

जिन्नाह के जिन्न से नही जिन्नाहवादी सोच से बचो

Posted On & filed under राजनीति.

विनोद कुमार सर्वोदय एक बार नेहरू जी ने कहा था कि  “एक क्या एक हज़ार जिन्नाह भी पाकिस्तान नही बना सकते”। तब जिन्नाह बोले थे कि  “पाकिस्तान का जन्म तो तभी हो गया था जब पहले हिन्दू का धर्मपरिवर्तन करके उसे मुसलमान बना दिया गया था “। अतः उनकी भविष्य में भारत को मुगलिस्तान बनाने… Read more »

कठुआ कांड__जिहाद का नया रूप__

Posted On & filed under राजनीति.

विनोद कुमार सर्वोदय हिंदुओं की पुण्य भूमि भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाने के लिये  सैकड़ों वर्षों से जिहाद जारी है। इतिहास साक्षी है कि समय के साथ साथ जिहाद भी नित्य नये नये रूप लेते जा रहा हैं। इसी संदर्भ में राष्ट्रीय एकता व अखंडता पर प्रहार करने के षड़यंत्र रचे जा रहे हैं। इस… Read more »

राजनैतिक कर्मज्ञों का अभाव…

Posted On & filed under राजनीति.

  आज निसंदेह यह कहना अनुचित नही होगा कि  विश्व में भारत जैसे विराट देश में  लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं के होते हुए भी ऐसे राजनैतिक कर्मज्ञों का अभाव प्रतीत होता है जो राष्ट्र को एक सूत्र में पिरोकर विकास के पथ पर अग्रसर कर सकें ? कुशल व सक्षम राजनीतिज्ञों के अभाव के कारण अनेक प्रकार… Read more »

लोकसभा चुनाव 2019  में  2004 की भांति पराजय से बचें… 

Posted On & filed under राजनीति.

क्या ‎गोरखपुर , फूलपुर व अररिया के उपचुनावों में भाजपा की पराजय ने हमको इतना निराश हो जाना चाहिये कि 2019 के चुनावों की सफलता का विश्लेषण करने के लिए किन्तु-परंतु व अगर-मगर की गर्मा-गर्म टीवी चैनलों पर चर्चाएं हो और पत्र-पत्रिकाओं में छोटे-बड़े लेख प्रकाशित होने लगें। यह उचित है कि भाजपा को ऐसी… Read more »

भारत को सीरिया न बनने दें …

Posted On & filed under विश्ववार्ता.

धार्मिक आस्थाओं की रक्षार्थ प्रसिद्ध आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर जी ने चेतावनी दी है कि अगर राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण अयोध्या में नही होता है तो भारत की स्थिति सीरिया जैसी हो सकती है। उनका यह कथन भविष्य में विभिन्न धार्मिक आस्थाओं में होने वाले टकराव की ओर संकेत दे रहा है। निसंदेह… Read more »

जिहादी जनून से जलता कश्मीर

Posted On & filed under राजनीति.

क्या यह उचित है कि दुश्मन के छदम युद्धों का सिलसिला बना रहें और हम उसे कायराना हमला कहकर निंदा करके अपने दायित्वों से भागते रहें ? यह कितना दुर्भाग्यपूर्ण है कि शनिवार 10 फरवरी को सुबह जम्मू में सेना की सुंजवां ब्रिगेड पर हुए जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों के हमले को अभी नियंत्रित भी नही… Read more »