राजेन्‍द्र राठौर

वर्ष 1999 से पत्रकारिता से जुड़े राजेन्‍द्र जी के लिए स्वतंत्र लेखन शौक है। उनका विशिष्‍ट परिचय यही है कि वे समाज के अंदर छिपी प्रतिभाओं को सामने लाकर उन्‍हें मंच मुहैया कराने में जुटे हैं।