राकेश कुमार आर्य

उगता भारत’ साप्ताहिक / दैनिक समाचारपत्र के संपादक; बी.ए. ,एलएल.बी. तक की शिक्षा, पेशे से अधिवक्ता। राकेश आर्य जी कई वर्षों से देश के विभिन्न पत्र पत्रिकाओं में स्वतंत्र लेखन कर रहे हैं। अब तक चालीस से अधिक पुस्तकों का लेखन कर चुके हैं। वर्तमान में ' 'राष्ट्रीय प्रेस महासंघ ' के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं । उत्कृष्ट लेखन के लिए राजस्थान के राज्यपाल श्री कल्याण सिंह जी सहित कई संस्थाओं द्वारा सम्मानित किए जा चुके हैं । सामाजिक रूप से सक्रिय राकेश जी अखिल भारत हिन्दू महासभा के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और अखिल भारतीय मानवाधिकार निगरानी समिति के राष्ट्रीय सलाहकार भी हैं। ग्रेटर नोएडा , जनपद गौतमबुध नगर दादरी, उ.प्र. के निवासी हैं।

मजहब ही तो सिखाता आपस में बैर रखना : देश का विभाजन और आजादी के बाद की राजनीति

देश का विभाजन और आजादी के बाद की राजनीति अलिखित रूप से अंग्रेजों और मुसलमानों के बीच बनी उपरोक्त सहमति...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना : अंग्रेजों की मुस्लिमपरस्ती को कांग्रेस का समर्थन और देश विभाजन

अंग्रेजों ने मुस्लिमों को समझा दिया था…… भारत में मुस्लिम सांप्रदायिकता शासन द्वारा प्रायोजित होती रही थी । अंग्रेजों ने...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना, अध्याय : भारत में सांप्रदायिकता, अंग्रेज और कॉन्ग्रेस

भारत में साम्प्रदायिकता ,अंग्रेज और कॉंग्रेस भारत में प्राचीन काल में शासन की नीति का आधार पंथनिरपेक्ष विचारधारा होती थी...

‘मल्लपुरम’ के बाद अब ‘मलेरकोटला’ : कहीं नए ‘जूनागढ़’ और ‘हैदराबाद’ का निर्माण तो नहीं ?

1905 में जब सांप्रदायिक आधार पर अंग्रेजों ने बंगाल प्रांत का विभाजन किया तो ‘बंग भंग’ के नाम से विख्यात...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना : द्वितीय क्रूश युद्ध

डॉ॰ राकेश कुमार आर्य द्वितीय क्रूश युद्ध (1147-1149) जब सन् 1144 में मोसल के तुर्क शासक इमादुद्दीन ज़ंगी ने एदेसा...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना : मजहबी घृणा और प्रथम पुरुष युद्ध

प्रथम क्रूसयुद्ध मजहबी उन्माद व्यक्ति के मन मस्तिष्क में गहरा अंधकार कर देता है। क्योंकि यह सबसे पहले विवेक के...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना : मजहब और क्रूसेड युद्ध अर्थात धार्मिक युद्ध

क्रूसेड युद्ध अर्थात धार्मिक युद्ध मजहब के नाम पर ईसाइयों, यहूदियों और मुसलमानों के बीच एक से एक बढ़कर खूनी...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना : औरंगजेब का हिंदुओं के प्रति आतंकी शासन

औरंगज़ेब का आतंकी शासन औरंगज़ेब का इतिहास में एक क्रूरतम मुगल बादशाह के रूप में स्थान है । उसने हिन्दुओं...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना: जहांगीर के हिंदू समाज पर अत्याचार

जहाँगीर, शाहजहाँ और औरंगजेब की हिन्दू नीति अकबर के लिए कहा जाता है कि उसकी सेना में अधिकांश लोग हिन्दू...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना : अकबर का ‘फतहनामा’ : जो बताता है हिंदुओं के प्रति उसकी क्रूर नीति को

अकबर का ‘फतहनामा’ मध्यकालीन इतिहास में जब मुगल और उनसे पहले तुर्क भारतवर्ष में अपने अत्याचारों के माध्यम से हिन्दू...

मजहब ही तो सिखाता है आपस में बैर रखना : जब राजपूत योद्धाओं की कर दी गई थी हत्या

राजपूत योद्धाओं की कर दी थी हत्या अकबर की चित्तौड़ विजय के विषय में अबुल फजल ने लिखा था- ”अकबर...

20 queries in 0.374