ईट का ज़बाब,पत्थर से देना जानते है

ईट का ज़बाब,पत्थर से देना जानते है,
चीन तेरे घर में,घुस कर मारना जानते है।
मत दिखा अपनी हैंकड़ी,चीन अब तू हमें,
तेरी हैकडी भी हम निकालना जानते हैं।।
++++++++++++++++++++

शौर्य देख चीन दांतो तले,उंगलियां चबा बैठा,
पाक भी डरकर,चीन की गोद में जा बैठा।
सुन कर गर्जना,छप्पन इंची सीने वाले की,

चीन सारी गलवान घाटी खाली कर बैठा।।

चीन ज्यादा मत अकड़,तुझे नक्शे से हटा देंगे,
तेरी औकात जितनी है,उसे भी हम बता देंगे।
समझ रक्खा होगा,ये बासठ का भारत होगा।
ये बीस का भारत है,तुझे ये भी हम जता
देंगे।।


आर के रस्तोगी

Leave a Reply

%d bloggers like this: