शख्सियत

प्रसिद्ध व्यक्तित्व का परिचय

कब तक सामने आते रहेंगे प्यारेमियाँ जैसे चरित्र ?

“हर चेहरे पर नकाब है यहाँ बेनकाब कोई चेहरा नहीं हर दामन में दाग है यहाँ बेदाग कोई दामन नहीं। यह अजीब शहर है जहाँ औरत बेपर्दा कर दी जाती है लेकिन सफेदपोशों के नकाब कायम हैं यहाँ” मध्यप्रदेश की राजधानी एक बार फिर कलंकित हुई।…