उत्‍पाद समीक्षा

बढ़ते उपभोक्तावाद पर संयम का अंकुश जरूरी

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस- 24 दिसम्बर, 2020-ः ललित गर्ग:-उपभोक्ता में उत्पादकता और गुणवत्ता संबंधित जागरूकता को बढ़ाने, जमाखोरी, कालाबाजारी, मिलावट, अधिक...

पत्रकारिता के दार्शनिक आयाम का आधार है ‘आदि पत्रकार नारद का संचार दर्शन’

पत्रकारिता के दार्शनिक आयाम का आधार है 'आदि पत्रकार नारद का संचार दर्शन' - लोकेन्द्र सिंह (लेखक माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार...

खाद्य सुरक्षा कानून देशभर में लागू

देशभर में मिला गरीबों को सस्ते अनाज का हक प्रमोद भार्गव राष्ट्रीय खाद्य सुरक्शा कानून पूरे देश में लागू हो...

देशी गाय बनाम विदेशी गाय

देशी गाय न्यूजीलैंड के वैज्ञानिकों ने १९९३ ई. में डायबिटीज (टाइप-१), ऑटो इम्यून रोग, कोरोनरी आर्टरी डिजीज जैसी कई बीमारियों...

भारत के मार्टिन लूथर हैं फ्रांसिस

   डॉ. वेदप्रताप वैदिक भारत का सांस्कृतिक पुर्नजागरण अधूरा ही रह गया। स्वाधीनता आने पर राजनीतिक जागृति तो फैल गई लेकिन...

अनाज की बर्बादी और जिम्मेदार नौकरशाह

प्रमोद भार्गव गेहूं की बर्बादी पर इलाहबाद उच्च न्यायालय की नजीर- इससे बड़ी विडंबना और कोर्इ नहीं हो सकती कि...

17 queries in 0.912