मनोरंजन

Entertainment

फिल्मों के सफलता की गारंटी हुआ करते थे जानी वाकर ….

जानी वाकर पहले हास्य कलाकार थे जिनके नाम पर नटराज प्रोडक्शन ने सन 1957 में “जानी वाकर ” नामक फिल्म का निर्माण किया ,जिसके निर्देशक वेद महान थे | इस फिल्म में नायक जानी वाकर और नायिका श्यामा थी | फिल्म की सफलता से उत्साहित वेद मदान ने अपनी अगली फिल्म “मिस्टर कार्टून एम. ” में भी जानी वाकर को शीर्ष भूमिका के लिए चुना | “मिस्टर जॉन ” “नया पैसा ” “जरा बच के ” “रिक्शा वाला” “उडन छु” आदि फिल्मो में भी उन्होंने मुख्य भूमिका निभाई थी |

बेहतरीन हास्य कलाकार राजपाल यादव

राजपाल यादव हिन्दी फिल्मों के हास्य अभिनेता हैं जो कि हिन्दी सिनेमा में अपने काॅमिक रोल्स केे कारण जाने जाते हैं। वे अपनी काॅमिक टाइमिंग की वजह से बाॅलीवुड में खासे मशहूर हैं। वे हिन्दी फिल्मों के बेहतरीन हास्य कलाकारों में से एक हैंl
तकरीबन पौने दौ सौ फिल्मों में काम कर चुके जाने-माने अभिनेता राजपाल यादव रविवार को रील लाइफ से हटकर रीयल लाइफ में सियासी पारी में जोरआजमाइश करते नजर आए। उन्होंने मौजूदा राजनीति की दशा-दिशा पर सवाल उठाए तो उसे दुरुस्त करने का दावा भी किया। बतौर स्टार प्रचारक अपनी सर्व समभाव पार्टी की नीतियां बताईं।

अभिनय के रास्ते राजनीति तक पहुंचनेवाले धर्मेन्द्र सिंह देओल अब समाजसेवा में सिक्का जमायेंगे

-अनिल अनूप धर्मेन्द्र फगवाड़ा में पंजाब राज्य के कपूरथला जिले में पैदा हुए थॆ। उन्होंनॆ

रेखा के रहस्यों को बेनकाब किया रेखा की ‘अनटोल्ड स्टोरी’

भारतीय सिने जगत की सबसे रहस्यमई अदाकारा रेखा के जीवन के कई पन्नों को लोग पढ़ना चाहते थे। उनसे कई सवाल पूछना चाहते थे, लेकिन रेखा ने हर बार लोगों को अपनी वाकपटुता से चुप करवाया है। हर बार लोगों को अपने बारे में कुछ न बताने वाली रेखा अपने जीवन के उन बेहद दिलचस्प पन्नों पर से पर्दा उठाने वाली हैं।

कामेडियन के साथ-साथ अच्छे होस्ट, नायक,गा़यक और प्रोड्युसर भी हैं कपिल शर्मा

कपिल शर्मा भारतीय स्टैंड अप काॅमेडियन, अभिनेता, टीवी एंकर और गायक हैं। उन्होंने 2013 में पहली बार फोब्र्स इंडिया सेलिब्रिटी लिस्ट में जगह बनाई और इसमें उन्हें 93वां स्थान मिला और 2014 में वह 33वें स्थान आ गए। उन्हें एंटरटेनमेंट कैटेगरी में सीएनएन आईबीएन इंडियन आॅफ द ईयर 2013 घोषित किया गया।

युग से आगे की सोच रखती थीं ‘देविका रानी’

देविका को भारतीय सिनेमा के सर्वोच्च पुरुस्कार दादा साहेब फाल्के पुरुस्कार और सोवियत लैंड नेहरु पुरुस्कार सहित कई दर्जनों सम्मान मिले | फिल्मो में अलग होने के बाद भी वह विभिन्न कलाओं से जुडी रही | अपने दिलकश अभिनय से दर्शको के दिलो पर राज करने वाली देविका 9 मार्च 1994 को 85 वर्ष की उम्र में इस दुनिया से अलविदा कह गयी |

परवीन बॉबी : एक ऐसी अदाकारा जिनकी फिल्मों से ज़्यादा जिन्दगी चर्चित रही……

बड़े पर्दे पर हमेशा ही डिफ्रेंट अंदाज में दिखने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस परवीन बॉबी का जीवन शुरू से ही रहस्यमयी रहा. उनकी जिंदगी हमेशा से तन्हाई में ही बीती और मौत भी उन्हें गुमनाम ही मिली. सन 2005 में 20 जनवरी को आज के ही दिन इस बिंदास एक्ट्रेस ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया. परवीन की मौत के दो दिन बाद दुनिया को उसके मृत होने का पता चल सका.

जद्दन बाई : कोठे की जीनत बनकर ऐसी चमकी कि दिलों के साथ-साथ शोहरत व दौलत ने उसके कदम चूमे..

-अनिल अनूप अनुराग कश्यप की बहुचर्चित फिल्म गैंग ऑफ वासेपुर का संगीत देने वाली स्नेहा