मनोरंजन

Entertainment

अभिनय के रास्ते राजनीति तक पहुंचनेवाले धर्मेन्द्र सिंह देओल अब समाजसेवा में सिक्का जमायेंगे

-अनिल अनूप धर्मेन्द्र फगवाड़ा में पंजाब राज्य के कपूरथला जिले में पैदा हुए थॆ। उन्होंनॆ

रेखा के रहस्यों को बेनकाब किया रेखा की ‘अनटोल्ड स्टोरी’

भारतीय सिने जगत की सबसे रहस्यमई अदाकारा रेखा के जीवन के कई पन्नों को लोग पढ़ना चाहते थे। उनसे कई सवाल पूछना चाहते थे, लेकिन रेखा ने हर बार लोगों को अपनी वाकपटुता से चुप करवाया है। हर बार लोगों को अपने बारे में कुछ न बताने वाली रेखा अपने जीवन के उन बेहद दिलचस्प पन्नों पर से पर्दा उठाने वाली हैं।

कामेडियन के साथ-साथ अच्छे होस्ट, नायक,गा़यक और प्रोड्युसर भी हैं कपिल शर्मा

कपिल शर्मा भारतीय स्टैंड अप काॅमेडियन, अभिनेता, टीवी एंकर और गायक हैं। उन्होंने 2013 में पहली बार फोब्र्स इंडिया सेलिब्रिटी लिस्ट में जगह बनाई और इसमें उन्हें 93वां स्थान मिला और 2014 में वह 33वें स्थान आ गए। उन्हें एंटरटेनमेंट कैटेगरी में सीएनएन आईबीएन इंडियन आॅफ द ईयर 2013 घोषित किया गया।

युग से आगे की सोच रखती थीं ‘देविका रानी’

देविका को भारतीय सिनेमा के सर्वोच्च पुरुस्कार दादा साहेब फाल्के पुरुस्कार और सोवियत लैंड नेहरु पुरुस्कार सहित कई दर्जनों सम्मान मिले | फिल्मो में अलग होने के बाद भी वह विभिन्न कलाओं से जुडी रही | अपने दिलकश अभिनय से दर्शको के दिलो पर राज करने वाली देविका 9 मार्च 1994 को 85 वर्ष की उम्र में इस दुनिया से अलविदा कह गयी |

परवीन बॉबी : एक ऐसी अदाकारा जिनकी फिल्मों से ज़्यादा जिन्दगी चर्चित रही……

बड़े पर्दे पर हमेशा ही डिफ्रेंट अंदाज में दिखने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस परवीन बॉबी का जीवन शुरू से ही रहस्यमयी रहा. उनकी जिंदगी हमेशा से तन्हाई में ही बीती और मौत भी उन्हें गुमनाम ही मिली. सन 2005 में 20 जनवरी को आज के ही दिन इस बिंदास एक्ट्रेस ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया. परवीन की मौत के दो दिन बाद दुनिया को उसके मृत होने का पता चल सका.

जद्दन बाई : कोठे की जीनत बनकर ऐसी चमकी कि दिलों के साथ-साथ शोहरत व दौलत ने उसके कदम चूमे..

-अनिल अनूप अनुराग कश्यप की बहुचर्चित फिल्म गैंग ऑफ वासेपुर का संगीत देने वाली स्नेहा

खत्म होती बादशाहत

इस सीरीज़ के खत्म होने के बाद आस्ट्रेलिया को अपने घरेलू मैदान पर साउथ अफ्रीका से टेस्ट सीरीज़ खेलनी थी.. लेकिन दौरे के पहले टेस्ट में ही आस्ट्रेलिया को पर्थ में पटखनी में मिल गई.. और साउथ अफ्रीका ने उसे आसानी से 177 रनों से हराकर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज़ में 1-0 की बढ़त बना ली.. ये पर्थ में साउथ अफ्रीका की आस्ट्रेलिया पर लगातार तीसरी जीत थी…

हठयोग पर ठिठका क्रिकेट…

अहम बात यह है कि अगर श्रृंखला रद्द होती है कि तो मामला बीसीसीआइ से हटकर लोढ़ा समिति की तरफ आ जाएगा कि सीरीज उनकी वजह से नहीं हो सकी.. जिसके बाद टकराव का यह मामला अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेल को प्रभावित करेगा। इस एक फैसले से सिर्फ क्रिकेट या किसी क्रिकेट बोर्ड की नहीं बल्कि भारत की बदनामी होगी।

यहाँ तो घर की मुर्गी दाल बराबर ही है !

स्थिति ऐसी लगती है जैसा कबड्डी के साथ घर की मुर्गी दाल बराबर जैसा व्यवहार हो रहा है । वर्ल्ड कप , वर्ल्ड कप होता है चाहे वे किसी भी खेल का क्यों न हो पर अपने यहाँ तो वर्ल्ड कप मतलब क्रिकेट वर्ल्ड कप और कुछ नही । ये बात समझी जा सकती है कि व्यक्ति की खेल भावना मे एकाएक बड़ा बदलाव सम्भव नही है और न ही कोई क्रिकेट प्रेमी एकाएक कबड्डी प्रेमी बनकर उसकी बारिकियों का विश्लेषण कर सकता है और एकाएक इतने बड़े बदलाव की उम्मीद न तो समाज हमसे करता और न ही उस खेल के खिलाड़ी , वे तो बम इस इतनी