समाज

कैलाश सत्यार्थी ने आरएसएस के मंच से क्या कहा ? यहां पढ़िये पूरा भाषण

ऊँ अग्ने नय सुपथा राये, अस्मान् विश्वानि देव वयुनानि विद्वान्। युयोध्यस्म्ज्जुहु राणमेनो भूयिष्ठां ते नम उक्तिं