हेडगेवार शतरंज प्रतियोगिताः जनरल साहब का शतरंज से रहा है पुराना नाता

-प्रवक्ता न्यूज़-

chess

नई दिल्ली। 27 अप्रैल से शुरू होने वाली डॉ. हेडगेवार ‘शतरंज’ प्रतियोगिता में कुछ ही दिन अब शेष बचे हैं। जहां एक ओर प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है, वहीं शतरंज-प्रशंसक भी इस आयोजन को ऐतिहासिक बता रहे हैं। अलग-अलग आयोजनों के दौरान अलग-अलग केंद्रीय मंत्री और ग्रैंडमास्टर्स के आने की खबर के बाद मीडिया में भी इस प्रतियोगिता को लेकर खासी चर्चा होने लगी है।

प्रतियोगिता के आयोजन समिति के संयोजक शिरिश जैन बताते हैं कि इस प्रतियोगिता का शुभारंभ जनरल वीके सिंह करेंगे। मीडिया से मुखातिब होते हुए श्री जैन बताते हैं कि प्रतियोगिता के शुभारंभ के लिए श्री सिंह को ही इसलिए आमंत्रित किया गया है, क्योंकि वह भारतीय सेना में परम विशिष्ट मेडल, अति विशिष्ट मेडल, अति विशिष्ट सेवा मेडल, युद्ध सेवा मेडल को प्राप्त कर चुके हैं। इसके साथ ही वह जनरल के पद तक पहुंचने वाले पहले प्रशिक्षित कमांडो हैं। श्री जैन बताते हैं कि चूंकि शतरंज और सेना का बहुत गहरा सामंजस्य रहा है। दोनों ही क्षेत्र में धैर्य की जरूरत है। हर कदम पर, हमारी हर एक चाल पर हमारी जीत या हार निर्भर करती है। और इस क्षेत्र में जनरल साहब अपने कार्यकाल के दौरान बड़ी ही सूझबूझ से अपने दायित्वों को निभाते रहे, इसलिए उन्हें इस प्रतियोगिता के शुभारंभ के लिए चुना गया।

श्री जैन कहते हैं कि शतरंज एक ऐसा खेल है जो हमें जीवन में धैर्यवान होने के अलावा जीवन में यह भी सीख देता है कि योजना और क्रियान्वयन का बेहतर तालमेल हो तो जीवन में एक छोटा मनुष्य भी बहुत बड़ा कर सकता है।

1 thought on “हेडगेवार शतरंज प्रतियोगिताः जनरल साहब का शतरंज से रहा है पुराना नाता

  1. mujhe bhi iss pratiyogita mein bhag lena hain, kripa kar koi contact number de, jisse mein iss pratiyogita mein hissa le sakun,

Leave a Reply

%d bloggers like this: