प्रवक्ता.कॉम ब्यूरो

प्राकृतिक आपदाएं:- कितनी प्राकृतिक कितनी मानवीय

  सभी आपदा मनुष्य द्वारा उत्पन्न माने जा सकते हैं। क्योंकि कोई भी खतरा विनाश में परिवर्तित हो, इससे पहले मनुष्य...

सरकार व सिस्टम पर उठ रहे सवाल, फैलता जा रहा बलात्कारीय अपराधों का जाल

संदीप के. गुप्ता बलात्कार के आए दिन हो रहीं नई वारदातें व बढ़ते हुए क्रूर, बर्बर, घ्रणित दुष्कर्मों के मामले...

वीरचन्द राघव जी गांधी की मूर्ति की स्थापना और अनावरण

जैन संघ के परम विद्वान, हितचिंतक श्री वीरचन्द राघव जी गांधी के 154वें जन्म-जयन्ती वर्ष में उनकी एक आदमकद मूर्ति...

कोई बेचता है पतंग, किसी का कबाड़ का कारोबार, ये है PM मोदी का परिवार!

उदय माहूरकर आज जब राजनीति में हर तरफ परिवारवाद को बोलबाला हो, सियासी परिवारों में कलह की खबरें लगातार सुर्ख‍ियों...

हरि व्यापक सर्वत्र समाना, प्रेम ते प्रकट होहिं मैं जाना

-संतोष कुमार त्रिपाठी-        मैं विवेकानंद का पुनर्जन्म और इस जन्म में कल्कि अवतार हूँ। नोस्त्रेदामस की भविष्यवाणियों का चंद्रमा...

16 queries in 0.694