बच्चो व दादी में वार्तालाप

बच्चे बोले दादी से,
दादा बाहर क्यो नहीं जाते
हमे घुमाने क्यो नहीं जाते ।
दादी बोली,बाहर कोरोना बैठा है
दरवाजे पर ताला लगाए बैठा है
इसलिए दादा बाहर नहीं जाते।।

बच्चे फिर दादी से बोले,
कोरोना क्या होता है,
उससे डर क्यो लगता है,
दादी बोली,
कोरोना एक महामारी है
जिससे बचना बड़ा भारी हैं

बच्चे फिर दादी से बोले,
अगर कोरोना भारी है
उसे मिलकर हम उठाएंगे
अगर वह महामारी है तो
डॉक्टर को हम बुलाएंगे
उसको इंजेक्शन लगवाएंगे

दादी बोली बच्चो की सुन भोली बाते
बच्चो को कैसे समझाए ?
भोले है ये कैसे इन्हे समझाए ?
सोचे सभी उपाय दादी ने
पर कोई अक्ल में न आए।
दादा झट से बोले बच्चो से
कोरोना का कोई इंजेक्शन नहीं बना है कैसे डॉक्टर उसे लगाए
जब इंजेक्शन बन जाएगा इसका
तभी तुम्हे घुमाने ले जाए।।

आर के रस्तोगी

Leave a Reply

26 queries in 0.360
%d bloggers like this: