मै भारत का रहने वाला हूँ,भारत की ही बात तुम्हे सुनाता हूँ |

0
179

मै भारत का रहने वाला हूँ,भारत की ही बात तुम्हे सुनाता हूँ |
यहाँ बुद्ध राम रहीम नानक महावीर जन्मे,उनके उपदेश सुनाता हूँ ||
करते थे वे सबका परोपकार, अहिंसा शांति के मार्ग पर चलते थे |
दिया नहीं कभी किसी को कष्ट,सबका आदर सत्कार वे करते थे ||
दिया सारे विश्व को एक नया सन्देश, वे आज भी पूजे जाते है ||
किया नहीं किसी के साथ छल कपट वे आज भी याद किये जाते है ||
सब थे वे परोपकारी इंसान,उनका ही सन्देश तुम्हे सुनाता हूँ |
मै भारत का रहने वाला हूँ,भारत की ही बात तुम्हे सुनाता हूँ ||

यहाँ अनेको भाषा बोली जाती,फिर भी हिंदी मात भाषा कहलाती है |
भले ही अनेक भाषा भाषी हो,फिर भी हिंदी उनको समझ में आती है ||
भले ही अनेक धर्म यहाँ,फिर भी राष्ट धर्म एक कहलाता है |
ये भारत देश ऐसा है,जहा सब धर्मो का आदर किया जाता है ||
भाति भाति की यहाँ जाति मिलेगी,उनकी गणना करना मुश्किल है |
एक जाति में अनेक गोत्र मिलेगे,उनका जानना बड़ा ही मुश्किल है ||
इन बातो के कारण,ये धर्म जाति और भाषा का संगम कहलाता है |
मै भारत का रहने वाला हूँ,भारत की ही बात तुम्हे सुनाता हूँ

आर के रस्तोगी

Previous articleहिन्दूराष्ट्र स्वप्न द्रष्टा : बंदा वीर बैरागी
Next articleस्वच्छता व प्रकाश की प्रतीक दीपावली
आर के रस्तोगी
जन्म हिंडन नदी के किनारे बसे ग्राम सुराना जो कि गाज़ियाबाद जिले में है एक वैश्य परिवार में हुआ | इनकी शुरू की शिक्षा तीसरी कक्षा तक गोंव में हुई | बाद में डैकेती पड़ने के कारण इनका सारा परिवार मेरठ में आ गया वही पर इनकी शिक्षा पूरी हुई |प्रारम्भ से ही श्री रस्तोगी जी पढने लिखने में काफी होशियार ओर होनहार छात्र रहे और काव्य रचना करते रहे |आप डबल पोस्ट ग्रेजुएट (अर्थशास्त्र व कामर्स) में है तथा सी ए आई आई बी भी है जो बैंकिंग क्षेत्र में सबसे उच्चतम डिग्री है | हिंदी में विशेष रूचि रखते है ओर पिछले तीस वर्षो से लिख रहे है | ये व्यंगात्मक शैली में देश की परीस्थितियो पर कभी भी लिखने से नहीं चूकते | ये लन्दन भी रहे और वहाँ पर भी बैंको से सम्बंधित लेख लिखते रहे थे| आप भारतीय स्टेट बैंक से मुख्य प्रबन्धक पद से रिटायर हुए है | बैंक में भी हाउस मैगजीन के सम्पादक रहे और बैंक की बुक ऑफ़ इंस्ट्रक्शन का हिंदी में अनुवाद किया जो एक कठिन कार्य था| संपर्क : 9971006425

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here