मतलब की सारी दुनिया है,
मतलब के सब है यार।
मतलब जब निकल जायेगा,
कोई न पूछेगा तुम्हे यार।।

मतलब से सब बात करेंगे,
मतलब से देगे सब साथ।
मतलब जब निकल जाएगा,
कोई न करेगा तुमसे बात।।

मतलबी सारी दुनिया है,
मतलब का है सब संसार।
मतलब बिन कोई न पूछे,
ये है सब नियमो का सार।।

मतलब की सब दुनिया है,
मतलब से सब बात करते।
अगर मतलब है तुमसे उनका
लोग तूम्हारे पांव भी पड़ते।।

बिना मतलब के कोई भी,
किसी के पास आता नहीं।
अगर मतलब निकल गया,
किसी के पास जाता नहीं।।

मतलब में तलब छिपा है,
और म भी इसमें छिपा है।
जब तक दोनों इसमें रहेगें,
तब तक तुम में रहेगी मै ।।

आर के रस्तोगी

Leave a Reply

%d bloggers like this: