अब कांग्रेस नटवर सिंह की आने वाली किताब से डरी

1
262

-आदर्श तिवारी-
CONGRESS

कांग्रेस इस लोकसभा चुनाव के बाद पूरी तरह बिखर चूंकि हैं. इस चुनाव से भी कांग्रेस से कुछ नहीं सिखा. अब कांग्रेस इस डर में हैं कि कहीं नटवर सिंहकी आने वाली किताब भी कहीं पार्टी को और भी नुकसान न पहुंचा दे कहीं न कहीं कांग्रेस डरी हुई हैं. इस चुनाव के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन के मीडिया सलाहकार रहे संजय बारू ने जो किताब लिखी, उससे कांग्रेस को पूरी तरह सख्ते दे डाल दिया था, कांग्रेस चाह के भी कुछ न कर सकी और बेबस –लाचार ये चुप रही इसका चुप रहना भी कई सवाल पैदा करता हैं! इस पुरे चुनाव के बाद कांग्रेस में जबरदस्त विरोधाभास निकल के सामने आए हैं.एक ही दिन पूरी कांग्रेस में इस्तीफे के लिए लाइन लग जाती हैं, तमाम पुराने गठबंधन टूट जाते हैं. पार्टी पूरी तरह बिफर रही हैं लेकिन, कोई भी दमदार नेता ये नहीं कह रहा कि हमारे नेत्रित्व में कमी हैं. हमें एक साफ–सुथरा एक नया नेत्रित्व चाहिए. जो कोई युवराज न हो वरन एक साधारण परिवार से निकला हुआ व्यक्ति हो भारतीय राजनीति में जमीनी पकड़ हो. अगर ऐसा हो जाए तो कांग्रेस एक नई इतिहास रचेगी और परिवारवाद जैसे आरोपों से भी बरी जो जायगी लेकिन नहीं! सभी एक परिवार ने चरणों में नतमस्तक हैं. सवाल कि तह में जाए तो ये पता चलता हैं कि कांग्रेस अब चुप नहीं बैठ सकती संजय बारू की किताब ने कांग्रेस को बहुत ही नुकसान किया यही कारण हैं नटवर सिंह की आने वाली किताब “वन लाइफ इज नॉट इनफ” से कांग्रेस घबराहट में हैं. इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रियंका नटवर सिंह से मिलने जाती हैं ताकि इस किताब से पार्टी को संभावित नुकसान से बचाने कि कवायद ही कहेंगे. आखिर किस प्रकार का डर सोनियाजी को सता रहा हैं. कांग्रेस सरकार के पूर्व विदेश मंत्री रहे नटवर सिंह की आने वाले किताब के आने के बाद ही पता चलेगा कि आखिर क्या हैं जिसे लेकर कांग्रेस डरी हुई हैं. अब जो हो वो तो किताब आने के बाद ही खुलासा होगा. लेकिन लगता यही हैं कि आने वाली किताब से कांग्रेस को नुकसान ही होगा.

1 COMMENT

  1. Natwar Singh is a Chamcha of Nehru-Gandhi dynasty and is unhappy the way he was forced to go out from congress but he is a known slave so do not expect any new revelation. He has no standing of his own in the party or public.He is Mr. nobody.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here