अब तो पुरानी यादे रह गयी

0
154

मिस्सी रोटी मक्खन वाली,छाछ मलाई चली गयी |
खाट खटोला पटरा पटरी,दरी चटाई चली गयी ||

भाई बहन की धमाचौकड़ी,मार पिटाई चली गयी |
ढोलक घुंघरू गीत ठठोली,रोती बिदाई चली गयी ||

इन्तजार इकरार लुकाछिपी,प्रेम पत्र लिखाई चली गयी |
सिर पर चुन्नी नीची नजरे,अब वे कहाँ ये चली गयी ||

कलम स्लेट पैन होल्डर,दवात स्याही अब चली गयी |
बुदका-तख्ती घोटा,कटकन्ने वाली तख्ती चली गयी ||

कलाकंद और बर्फी पैडा,घर की मिठाई अब चली गयी |
बेसन के छोटे लड्डू घर की जमी पंजीरी अब चली गयी ||

माँ पिताजी चाचा ताऊ और चाची ताई अब चली गयी |
मामा मामी बुआ भतीजी और फूफा फूफी चली गयी ||

बच्चो को डाट डपट और बडो की नसीहत चली गयी |
आसन पर बैठ कर खाना,पुरानी रस्म अब चली गयी ||

बच्चो की लुका छिपी और बडो की बैठक चली गयी |
आँख मिचोनी खो खो,और कबड्डी अब चली गयो ||

बड़ो की पुश्तैनी चीजे और फोटो दीवारों से उतर गयी |
आज के नये फैशन में पुरानी चीजे भी बेकार हो गयी ||

चूल्हे और कोयलो की अंगीठी पता नहीं कहाँ चली गयी |
साग की हंडिया और दही की मटकी अब कहाँ चली गयी ||

पीढियों से दुःख दर्द की साथी पुरानी रिश्तेदारी चली गयी |
मिट चुका है सब कुछ, अब तो पुरानी यादे ही रह गयी ||

आर के रस्तोगी

Previous articleऋषि दयानन्द संसार के अद्वितीय महान युगपुरुष
Next articleसमय की मार।।
आर के रस्तोगी
जन्म हिंडन नदी के किनारे बसे ग्राम सुराना जो कि गाज़ियाबाद जिले में है एक वैश्य परिवार में हुआ | इनकी शुरू की शिक्षा तीसरी कक्षा तक गोंव में हुई | बाद में डैकेती पड़ने के कारण इनका सारा परिवार मेरठ में आ गया वही पर इनकी शिक्षा पूरी हुई |प्रारम्भ से ही श्री रस्तोगी जी पढने लिखने में काफी होशियार ओर होनहार छात्र रहे और काव्य रचना करते रहे |आप डबल पोस्ट ग्रेजुएट (अर्थशास्त्र व कामर्स) में है तथा सी ए आई आई बी भी है जो बैंकिंग क्षेत्र में सबसे उच्चतम डिग्री है | हिंदी में विशेष रूचि रखते है ओर पिछले तीस वर्षो से लिख रहे है | ये व्यंगात्मक शैली में देश की परीस्थितियो पर कभी भी लिखने से नहीं चूकते | ये लन्दन भी रहे और वहाँ पर भी बैंको से सम्बंधित लेख लिखते रहे थे| आप भारतीय स्टेट बैंक से मुख्य प्रबन्धक पद से रिटायर हुए है | बैंक में भी हाउस मैगजीन के सम्पादक रहे और बैंक की बुक ऑफ़ इंस्ट्रक्शन का हिंदी में अनुवाद किया जो एक कठिन कार्य था| संपर्क : 9971006425

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here