old man

रुपये एकत्रित करना है|
हमको गुल्लक भरना है|
इन रुपयों से वृद्धों की,
हमको सेवा करना है|

गली सड़क में इधर उधर,
बूढ़े ठेड़े दिख जाते|
लाचारी में बेचारे,
पीते न कुछ खा पाते|
इनकी झोली भरना है|
इन्हें मदद कुछ करना है|

कपड़े इनके पास नहीं,
सरदी गरमी सह जाते|
सहन नहीं जो कर पाते,
बिना मौत के मर जाते|
हमें दुखों को हरना है|
उनकी रक्षा करना है|

पर सेवा का बच्चों में,
भाव जगाना है हमको|
हाथों में लेकर सूरज,
हमें हटाना है तम को|
हमें उजाला करना है|
अंध‌कार से लड़ना है|

Leave a Reply

%d bloggers like this: