सत्तर साल का आरक्षण हो गया,कब तक इसे गोद खिलाओगे ? 

0
214

आर के रस्तोगी 

आरक्षण को अब बंद करो,कब तक इसे और आगे बढाओगे ?
सत्तर साल का आरक्षण हो गया,कब तक इसे गोद खिलाओगे ?

जाति का आधार है ये क्यों,गरीबी का आधार क्यों नहीं ?
सवर्ण जाति जो गरीब है,उसको आरक्षण मिलता क्यों नहीं ?

प्रतिभाओं का हनन हो रहा,सरकार उसकी जिम्मेदार क्यों नहीं ?
कम अंक वाले उच्च अधिकारी बनते,उच्च अंक वाले कुछ क्यों नहीं ?

समानता मिली संविधान में,फिर चयन परीक्षा में समानता क्यों नहीं ?
ये प्रश्न उभरे है जन-जीवन में,इसका उत्तर सरकार के पास क्यों नहीं ?

जाति का आधार बना है वोट बैंक,इसे चुनाव कमीशन रोकता क्यों नहीं ?
आम नागरिक जो जेल में बंद है,उसको वोट डालने का अधिकार क्यों नहीं ?

जो जेल में बंद है नेता,उनको चुनाव लड़ने का अधिकार क्यों है सही ?
कानून सबके लिए है समान,फिर सबको समानता मिलती क्यों नहीं ?

सुप्रीम कोर्ट सर्वोच्च है,फिर उसके निर्णय को सब मानते क्यों नहीं ?
क्यों बगावत कर रहे इस निर्णय का,इसका उत्तर उनके पास क्यों नहीं ?

यह आन्दोलन नहीं,केवल गुंडा-गर्दी है,इसे प्रशासन रोकता क्यों नहीं ?
जान-माल की हानि हो रही ,वाहनों का फूकना बंद होता क्यों नहीं ?

अगर इसको जल्द रोका नहीं गया,देश में गृह युद्ध छिड़ जाएगा
फिर इसको रोकना मुश्किल होगा,जब समय हाथ से निकल जायेगा ?

 

Previous article“हमारा यह जन्म हमारे पूर्वजन्म का पुनर्जन्म है और मृत्यु के बाद हमारा पुनर्जन्म अवश्य होगा”
Next articleमाया अखिलेश का सत्ता के लिए मिलन
आर के रस्तोगी
जन्म हिंडन नदी के किनारे बसे ग्राम सुराना जो कि गाज़ियाबाद जिले में है एक वैश्य परिवार में हुआ | इनकी शुरू की शिक्षा तीसरी कक्षा तक गोंव में हुई | बाद में डैकेती पड़ने के कारण इनका सारा परिवार मेरठ में आ गया वही पर इनकी शिक्षा पूरी हुई |प्रारम्भ से ही श्री रस्तोगी जी पढने लिखने में काफी होशियार ओर होनहार छात्र रहे और काव्य रचना करते रहे |आप डबल पोस्ट ग्रेजुएट (अर्थशास्त्र व कामर्स) में है तथा सी ए आई आई बी भी है जो बैंकिंग क्षेत्र में सबसे उच्चतम डिग्री है | हिंदी में विशेष रूचि रखते है ओर पिछले तीस वर्षो से लिख रहे है | ये व्यंगात्मक शैली में देश की परीस्थितियो पर कभी भी लिखने से नहीं चूकते | ये लन्दन भी रहे और वहाँ पर भी बैंको से सम्बंधित लेख लिखते रहे थे| आप भारतीय स्टेट बैंक से मुख्य प्रबन्धक पद से रिटायर हुए है | बैंक में भी हाउस मैगजीन के सम्पादक रहे और बैंक की बुक ऑफ़ इंस्ट्रक्शन का हिंदी में अनुवाद किया जो एक कठिन कार्य था| संपर्क : 9971006425

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here