अंतिम जन को खैरात नहीं खुद्दारी की दरकार