अन्धविश्वास निर्मूलन क़ानून का निर्माण ही इसका संवैधानिक समाधान है