अभिमन्यु

अभिमन्यु:प्रतिभा नाश होती नहीं रसायन की मार से

---विनय कुमार विनायकअभिमन्यु; प्रतिभा अमर होतीनाश हो सकती नहींकिसी घातक वार से जैसे कि ऊर्जा मिटती नहींकिसी रसायन की मार...

22 queries in 0.324