फांसी पर मानवाधिकार संगठनों के विलाप